नई दिल्ली, एजेंसियां। तमिलनाडु सरकार ने प्रतिबंधों में और ढील देते हुए स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हॉल, चिड़ियाघर और मनोरंजन पार्को को खोलने की इजाजत दे दी है। इसके लिए मानक परिचालन प्रक्रिया का पालन करना होगा। केंद्र सरकार के निर्णय के मुताबिक, उपनगरीय रेल सेवाओं को भी बहाल कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने एक बयान जारी कर कहा कि स्कूलों, सभी कॉलेजों, शोध और अन्य शैक्षणिक संस्थानों और छात्रावासों को 16 नवंबर से खोलने की इजाजत होगी। जहां तक स्कूलों का सवाल है, तो नौवीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए ही कक्षाएं संचालित होंगी।

कंटेनमेंट जोन में नहीं दी गई किसी भी तरह की छूट

50 फीसद सीटों के साथ सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स खोले जा सकेंगे। चिड़ियाघर और मनोरंजन पार्को में भी क्षमता के आधे दर्शकों को ही आने की इजाजत होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में किसी तरह की छूट नहीं दी जाएगी। स्वीमिंग पूल, समुद्र तट और पर्यटक स्थल फिलहाल बंद रहेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक, राजनीतिक और मनोरंजन से जुड़े कार्यक्रम भी 16 नवंबर से किए जा सकेंगे। हालांकि, इन आयोजनों में अधिकतम 100 लोगों को ही भाग लेने की इजाजत होगी। उन्होंने कहा कि प्रतिबंधों में यह छूट विशेषज्ञों और शीर्ष सरकारी अधिकारियों से विचार-विमर्श के बाद देने का फैसला किया गया है।

असम और आंध्र में खुलेंगे स्कूल

कोविड-19 महामारी के चलते सात महीने से अधिक समय तक बंद रहने के बाद असम और आंध्र प्रदेश में स्कूलों को खोला जा रहा है। असम में सख्त दिशा-निर्देशों के साथ स्कूलों को दो नवंबर से खोल दिया जाएगा। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार, छठी से 12वीं तक की कक्षाओं का संचालन किया जाएगा। छठी, आठवीं और 12वीं के छात्र सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को स्कूल आएंगे। मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को सातवीं, नौवीं और 11वीं के छात्रों को स्कूल बुलाया जाएगा। आंध्र प्रदेश में भी नौवीं और 10वीं के छात्रों के लिए स्कूल दो नवंबर से खोलने का फैसला लिया गया है। एक क्लास में सिर्फ 16 छात्रों को आने की इजाजत होगी।

Edited By: Dhyanendra Singh