मेरठ, जागरण संवाददाता। फ्रांस की राजधानी पेरिस में हुए आतंकी हमले में कार्टूनिस्ट और अन्य पत्रकारों की मौत से पूरा विश्व समुदाय स्तब्ध है। वहीं, कुछ साल पहले कार्टूनिस्ट का सिर कलम करने वाले को 51 करोड़ रुपये का इनाम देने के बयान से सुर्खियां बटोरने वाले उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री याकूब कुरैशी ने बुधवार को एक और विवादित बयान दे दिया। कुछ साल पहले डेनमार्क के एक समाचार पत्र में पैगंबर मुहम्मद साहब का आपत्तिजनक कार्टून छापने पर मुस्लिम समुदाय में तीखी प्रतिक्रिया हुई थी। इस दौरान में याकूब कुरैशी ने कार्टूनिस्ट का सर कलम करने वाले को 51 करोड़ रुपये का इनाम देने का एलान किया था। अब कुरैशी ने कहा है कि पूर्व में आपत्तिजनक कार्टून बनाने वाला तो मर चुका है, लेकिन पेरिस की मैगजीन में पैगंबर का आपत्तिजनक कार्टून बनाने वाले कार्टूनिस्ट के हत्यारे को वह इनाम की राशि देने को तैयार हैं।

गौरतलब है कि याकूब कुरैशी इस बार के लोकसभा चुनाव में मुरादाबाद से बसपा के उम्मीदवार थे। अब तक सपा, रालोद और बसपा सहित तीन पार्टियों में किस्मत आजमा चुके याकूब को दो साल पहले ही सिखों पर आपत्तिजनक बयान देने के कारण बसपा से निष्कासित किया गया था। मेरठ में पशुवधशाला चलाने और विवादित बयान देने को लेकर बसपा नेता याकूब कुरैशी एक अर्से से चर्चा में रहे हैं।

पढ़ें: फ्रांस की मैगजीन शार्ली हेब्दो का रहा है विवादों से पुराना नाता पढ़ें: आस्ट्रेलिया को भारत में आतंकी हमले का अंदेशा

फ्रांस की पत्रिका के दफ्तर पर आतंकी हमला, 12 की मौत

चार्ली हेब्दो के संपादक ने कहा था, 'घुटनों के बल जीने से अच्छा है मरना'

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस