Move to Jagran APP

पीएम मोदी के साथ 'परीक्षा पे चर्चा' के लिए अब तीन फरवरी तक करा सकेंगे रजिस्ट्रेशन

अब तक परीक्षा पे चर्चा के आयोजन की तारीख तय नहीं हो सकी है लेकिन जो संकेत मिल रहे हैं उसके मुताबिक यह चर्चा फरवरी के अंत तक कराई जा सकती है। वैसे भी 15 मार्च से बोर्ड परीक्षाओं को कराने का कार्यकम प्रस्तावित है।

By Dhyanendra Singh ChauhanEdited By: Published: Fri, 28 Jan 2022 10:41 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 10:55 PM (IST)
दूसरी बार बढ़ाई गई रजिस्ट्रेशन की अवधि (फाइल फोटो)

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। छात्रों और अभिभावकों की मांग को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ होने वाली 'परीक्षा पे चर्चा' में शामिल होने के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की अवधि एक बार फिर बढ़ा दी गई है। इसके तहत अब तीन फरवरी तक रजिस्ट्रेशन कराए जा सकेंगे। अभी रजिस्ट्रेशन की अवधि 28 जनवरी तक ही थी। हालांकि जब इसके रजिस्ट्रेशन की शुरुआत की गई थी, उस समय अंतिम तारीख 20 जनवरी ही रखी गई थी।

शिक्षा मंत्रालय ने रजिस्ट्रेशन की अवधि फिर बढ़ाने का यह फैसला शुक्रवार को लिया है। साथ ही छात्रों और अभिभावकों से तय समय के भीतर ही रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूरा करने को कहा है। अब तक 'परीक्षा पे चर्चा' के आयोजन की तारीख तय नहीं हो सकी है, लेकिन जो संकेत मिल रहे हैं, उसके मुताबिक यह चर्चा फरवरी के अंत तक कराई जा सकती है। वैसे भी 15 मार्च से बोर्ड परीक्षाओं को कराने का कार्यकम प्रस्तावित है। ऐसे में इससे पहले ही 'परीक्षा पे चर्चा' का आयोजन होना है।

दस फरवरी तक तारीखों का कर दिया जाएगा एलान

इसके साथ ही यह भी संकेत मिल रहे हैं कि यदि स्कूल-कालेज उस समय तक खुल जाते हैं, तो इसको फिजिकली भी कराया जा सकता है। फिलहाल अभी तक इसे पिछले साल की तरह आनलाइन ही कराने की योजना है। शिक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों की मानें तो दस फरवरी तक तारीखों का एलान कर दिया जाएगा।

परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम के लिए ऐसे करें आवेदन

1: आधिकारिक वेबसाइट mygov.in. पर जाएं।

2: होम पेज पर उपलब्ध Campaign लिंक पर क्लिक करें।

3: नई विंडो खुलेगी। यहां उम्‍मीदवारों को आवेदन करना होगा।

4: रजिस्‍ट्रेशन करें और फार्म सबमिट करें।

5: इसे डाउनलोड कर लें और भविष्य के लिए प्रिंटआउट भी अपने पास रख लें।

यह भी पढ़ें : शहरों में रहने वाली आधी आबादी फैलाती है 70 प्रतिशत प्रदूषण, हैरान करने वाली अध्ययन रिपोर्ट आई सामने


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.