Move to Jagran APP

असम में बाढ़ की वजह से नौ गैंडों की मौत, काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में 150 जानवरों ने गंवाई अपनी जान

असम पिछले दो महीनों में भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ से जूझ रहा है। बाढ़ में कम से कम 79 लोग मारे गए हैं जिससे खेत रिहायशी इलाके जलमग्न हो गए हैं और हजारों लोग विस्थापित हो गए हैं। असम आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार मंगलवार से सात मौतें दर्ज की गई हैं। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान के एक तिहाई हिस्सों में पानी भर गया है।

By Agency Edited By: Piyush Kumar Wed, 10 Jul 2024 01:24 PM (IST)
असम में बाढ़ की वजह से नौ गैंडो की मौत।(फोटो सोर्स: मिड डे)

एएनआई, गुवाहाटी। असम में बाढ़ की वजह से इंसान और जानवर दोनों का जीना मुहाल हो चुका है। बाढ़ की वजह से कई जानवरों को भी अपनी जान गंवानी पड़ी है। अधिकारियों ने जानकारी दी कि काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में बाढ़ में 150 से अधिक जानवर डूब गए हैं, जिनमें से नौ दुर्लभ एक सींग वाले गैंडे भी शामिल हैं।

बाढ़ की वजह से 79 लोगों की मौत 

असम पिछले दो महीनों में भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ से जूझ रहा है। बाढ़ में कम से कम 79 लोग मारे गए हैं, जिससे खेत, रिहायशी इलाके जलमग्न हो गए हैं और हजारों लोग विस्थापित हो गए हैं। असम आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार, मंगलवार से सात मौतें दर्ज की गई हैं।

बाढ़ की वजह से काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान के एक तिहाई हिस्सों में पानी भर गया है। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में एक सींग वाले गैंडों की संख्या 4000 है।

राज्य में भारी बारिश का अलर्ट

भारत के मौसम विभाग ने बुधवार को कहा कि अगले 2-3 दिनों तक उत्तरी और पूर्वोत्तर राज्यों में भारी बारिश होने की संभावना है, जिससे स्थिति और खराब हो सकती है। राज्य सरकार की आकलन रिपोर्ट के अनुसार, असम में 9 नदियों में जलस्तर पहले से ही खतरनाक स्तर से ऊपर है, जबकि ब्रह्मपुत्र नदी की सहायक नदियों में बुधवार तक और वृद्धि होने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ेंFlood in Assam: असम में सात और लोगों की मौत, बाढ़ की स्थिति में सुधार; अभी 17 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित