दंतेवाड़ा, जेएनएन। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में मेला देखने गए एक गोपनीय सैनिक छन्नू की हत्या नक्सलियों ने बीती रात बास्तानार में कर दी। वह कटेकल्याण का रहने वाला था। नक्सलियों की स्माल एक्शन टीम ने मेला स्थल के करीब पहले उसके साथ मारपीट की फिर धारदार हथियार से हत्या कर दी।

घटना की पुष्टि एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने की है। गोपनीय सैनिक समर्पण करने वाले उन नक्सलियों को कहते हैं जो सरकार से कुछ मानदेय लेकर पुलिस के नक्सल विरोधी अभियान में सहयोग करते हैं। इनका मुख्य काम पुलिस के लिए मुखबिरी करना होता है।

ज्ञात हो कि नक्सलियों के आंतक से परेशान होकर ग्रामीण और अन्य नक्सली पुलिस के लिए काम कर रहे हैं। उन्हें जंगल की जिंदगी रास नहीं आ रही है। उधर, नक्सली ग्रामीणों को आम जिंदगी जीने नहीं दे रहे हैं।

हाल ही में नक्सलियों के दक्षिण बस्तर डिवीजन कमेटी ने भी बीजापुर-सुकमा जिले में पर्चा जारी कर आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों को दोबारा संगठन में शामिल होने और गांव में रहने की अपील की है। पर्चा में गांव में खेती-किसानी करें लेकिन पुलिस में भर्ती और मुखबिरी छोड़ देने की चेतावनी दी गई है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh