कुन्नूर, प्रेट्र। चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत के हेलीकाप्टर का दुर्घटना से पहले वीडियो बनाने वाले व्यक्ति का मोबाइल फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। कोयंबटूर के वेडिंग फोटोग्राफर जो अपने दोस्त नजर और अपने परिवार के कुछ सदस्यों के साथ आठ दिसंबर को फोटोग्राफी करने पर्वतीय निलगिरिस जिले के कट्टेरी इलाके में गए थे। उत्सुकतावश जो ने अपने मोबाइल फोन से जनरल रावत के हेलीकाप्टर का वीडियो रिकार्ड किया था जो कुछ ही देर बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। घने कोहरे में गायब होते हेलीकाप्टर का वीडियो तब से इंटरनेट मीडिया पर वायरल है।

जिला पुलिस ने मामले की जांच के तहत जो का मोबाइल फोन उनसे लेकर कोयंबटूर स्थित फोरेंसिक लैब में भेजा है। पुलिस ने बताया कि इस बात की जांच की जा रही है कि फोटोग्राफर और कुछ अन्य लोग घने वन क्षेत्र में क्यों गए थे जबकि वन्य जीवों की गतिविधियों की वजह से वह प्रतिबंधित इलाका है।

सुराग तलाशने के लिए प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ

इस बीच, पुलिस विभाग ने चेन्नई स्थित मौसम विभाग से दुर्घटना वाले दिन के क्षेत्र में मौसम और तापमान से जुड़े विवरण भी मांगे हैं। साथ ही पुलिस हेलीकाप्टर दुर्घटना के सुराग तलाशने के लिए प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ भी कर रही है। 

हादसे के पहले का बताया जा रहा वीडियो

बता दें कि सीडीएस जनरल रावत वेलिंगटन के डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कालेज में लेक्चर देने जा रहे थे, तभी यह हादसा हो गया। हेलिकाप्टर लैंडिंग से कुछ मिनट पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया। सोशल मीडिया एक हेलिकाप्टर का वीडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि यह वीडियो हादसे से पहले का है। इसमें हेलिकाप्टर अच्छी तरह से उड़ता हुआ दिख रहा है। फिर अचानक से यह धुंध के गुबार में खो जाता है।

सीडीएस रावत समेत कुल 13 लोगों की इस हादसे में गई जान

गौरतलब है कि बुधवार को कुन्नूर के कटेरी-नंजप्पनचत्रम क्षेत्र में एमआई-17वीएच हेलीकाप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने से जनरल रावत, उनकी पत्नी और 13 अन्य लोगों की मौत हो गई थी। भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी की दुर्घटना में जान बच गई थी जिनका बेंगलुरु में इलाज चल रहा है। भारतीय वायु सेना अधिकारी ने बयान जारी कर कहा क‍ि भारतीय वायु सेना अधिकारी ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की हालत नाजुक लेकिन स्थिर बनी हुई है। उनकी सलामती के लिए पूरे देश में दुआओं का सिलसिला जारी है।

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan