नई दिल्ली, एजेंसी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के 25 मेडिकल आफिसर्स और 75 पैरामेडिक्स को अहमदाबाद में स्थापित होने वाले रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (डीआरडीओ) के कोरोना अस्पताल में तैनात करने का फैसला किया है। दिल्ली में डीआरडीओ के कोरोना अस्पातल में भी मंत्रालय ने इतनी ही संख्या में मेडिकल कर्मियों की तैनाती की है जो जल्द ही फिर संचालित होने वाला है।

गृह मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, 'गुजरात के मुख्य सचिव ने सूचित किया है कि डीआरडीओ अहमदाबाद में गुजरात यूनिवर्सिटी कंवेंशन सेंटर में कोरोना मरीजों के लिए 900 बेड का एक अस्पताल स्थापित कर रहा है। अस्पताल के संचालन में मदद के लिए उन्होंने मेडिकल आफिसर्स और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ की तैनाती का अनुरोध किया है।' मंत्रालय के मुताबिक, सभी सशस्त्र पुलिस बलों से कुछ संख्या में डाक्टरों और पैरामेडिक्स को स्पेयर करने के लिए कहा गया है।

मंत्रालय ने बलों से कहा है कि डीआरडीओ के अस्पताल में तैनाती के लिए वे अलग-अलग मेडिकल आफिसर्स और पैरामेडिक्स की पहचान कर लें। उन्हें 21 अप्रैल तक अहमदाबाद स्थित डीआरडीओ अस्पताल में ड्यूटी पर रिपोर्ट करना होगा।इससे पहले केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में दिल्ली छावनी स्थित डीआरडीओ के कोरोना अस्पताल को पुन: संचालित करने का फैसला किया गया था। इस अस्पताल में फिलहाल 250 आइसीयू बेड होंगे जिन्हें अगले कुछ दिनों में बढ़ाकर 500 बेड तक किया जाएगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021