श्रीनगर, जेएनएन/एजेंसियां। आतंकियों ने जम्‍मू-कश्‍मीर में अपनी रणनीति बदलते हुए टारगेट कीलिंग का खूनी खेल खेलना शुरू कर दिया है। आतंकी आए दिन सुरक्षा बलों पर हमला कर रहे हैं और प्रवासी मजदूरों की हत्‍याएं कर रहे हैं। आतंकियों ने शनिवार को श्रीनगर के ईदगाह इलाके में बिहार के एक हाकर की गोली मारकर हत्‍या कर दी। आतंकियों की गोली का शिकार हुए अरविंद कुमार साह बिहार के बांका जिले के रहने वाले थे और रेहड़ी लगाकर पानी पुरी बेचते थे। आतंकियों ने पुलवामा में दूसरी वारदात को अंजाम देते हुए सगीर अहमद नाम के शख्स को गोली मार दी। उत्‍तर प्रदेश के सगीर कारपेंटर का काम करते थे।

दो अक्टूबर से अब तक कई हत्‍याएं

रिपोर्टों के मुताबिक आतंकी कश्मीर में दो अक्टूबर से अब तक सात से ज्‍यादा आम लोगों की हत्या कर चुके हैं। इस महीने हुए आतंकी हमलों पर नजर डाले तो बीते 11 दिनों में ही आतंकियों के तीन तीन बड़े हमले हुए हैं। सूत्रों का कहना है कि कश्मीर में आतंकियों के निशाने पर गैर मुस्लिम, गैर कश्‍मीरी, प्रवासी मजदूर, सुरक्षा बलों के जवान और कश्मीरी पंडित हैं।  

टारगेट कीलिंग का खूनी खेल

07 अक्टूबर : आतंकियों ने श्रीनगर में ईदगाह इलाके में एक स्कूल में घुसकर दो प्रिंसिपल सुपिंदर कौर और शिक्षक दीपक चांद की हत्‍या कर दी थी। बताया जाता है कि आतंकियों ने पहले दोनों के आईडी कार्ड चेक किए बाद उन्हें गोली मारी थी।

05 अक्टूबर : आतंकियों ने श्रीनगर के इकबाल पार्क क्षेत्र में फार्मासिस्ट माखनलाल बिंद्रू को उनके मेडिकल स्टोर में गोली मार दी थी। आतंकियों ने इसी दिन अवंतीपोरा के हवला इलाके में भागलपुर के वीरेंद्र पासवान की हत्‍या कर दी थी। आतंकियों ने बांदीपोरा में मोहम्‍मद शफी लोन की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

11 अक्टूबर : आतंकियों ने पुंछ के सुरनकोट वन में सेना के एक गश्ती दल पर हमला कर दिया था। इस हमले में एक जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) समेत सेना के पांच जवान शहीद हो गए थे। मालूम हो कि सुरनकोट वन में सोमवार से शुरू हुए अभियान में अब तक नौ जवान शहीद हो चुके हैं।

सुरनकोट वन में आपरेशन जारी

सेना के सात जवानों की शहादत के बाद आतंकियों के खिलाफ आपरेशन तेज हो गए हैं। पुंछ और राजौरी जिलों के वन्य क्षेत्रों में चलाया जा रहा सघन तलाशी अभियान शनिवार को छठे दिन भी जारी रहा। इस दौरान एक जेसीओ समेत दो जवान शहीद हो गए।

पंपोर में लश्कर कमांडर ढेर

समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक सुरक्षा बलों ने शनिवार को पुलवामा के पंपोर इलाके में लश्कर कमांडर उमर मुश्ताक खांडे समेत दो आतंकियों को मार गिराया। मालूम हो कि सुरक्षा बलों ने इस साल अगस्त में आतंकियों की एक हिट लिस्ट जारी की थी जिसमें खांडे का नाम शीर्ष 10 आतंकियों में शामिल था।

सुरक्षा बलों ने मार गिराए 13 आतंकी

समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू क्षेत्र के राजौरी और पुंछ क्षेत्रों में इस साल जून के बाद से घुसपैठ की कोशिशें बढ़ गई हैं। यही नहीं आतंकियों के खिलाफ सुरक्षा बलों का अभियान भी तेज हो गया है। कश्‍मीर के आइजी विजय कुमार ने बताया कि नागरिकों की हत्‍याएं सामने आने के बाद से नौ एनकाउंटरों में कुल 13 आतंकी मारे जा चुके हैं। बीते 24 घंटे में ही श्रीनगर शहर में पांच में से तीन आतंकी मार गिराए गए हैं।  

एनएसजी ने भी संभाला मोर्चा

इस बीच आतंकवाद रोधी बल राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (National Security Guard, NSG) को श्रीनगर और जम्मू में भारतीय वायु सेना के अड्डों पर ड्रोन रोधी सुरक्षा कवच मुहैया कराने के लिए तैनात किया गया है। समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक एनएसजी के महानिदेशक एमए गणपति ने शनिवार को कहा कि संघीय आतंकवाद रोधी और हाइजैक रोधी कमांडो बल अब आतंकवाद रोधी अपनी क्षमता में और इजाफा कर रहा है। बल नई सुरक्षा चुनौतियों से निपटने की तैयारियों में जुट गया है।