Move to Jagran APP

Jaish al Adl की इन हरकतों से नाराज होकर ईरान ने किया पाकिस्तान में घुसकर हमला, जानें क्या करता है ये संगठन

Jaish Al Adl Pakistan भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान आतंकियों के लिए सुरक्षित ठिकाना बन गया है। पाकिस्तान से कई आतंकी संगठन संचालित होते हैं जो पड़ोसी देशों में आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देते हैं। ऐसे ही एक आतंकी संगठन पर ईरान ने एयरस्ट्राइक की है। आपको आतंकी संगठन जैश अल अदल के बारे में बताते हैं ये संगठन कब बना और ईरान ने उसके खिलाफ एयरस्ट्राइक क्यों की।

By Mohd Faisal Edited By: Mohd Faisal Published: Wed, 17 Jan 2024 11:49 AM (IST)Updated: Wed, 17 Jan 2024 11:50 AM (IST)
Jaish al Adl कि इन हरकतों से नाराज होकर ईरान ने किया पाकिस्तान में घुसकर हमला (फोटो जागरण ग्राफिक्स)

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। What is Jaish Al Adl / Pakistan News: भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान आतंकियों के लिए सुरक्षित ठिकाना बन गया है। पाकिस्तान से कई आतंकी संगठन संचालित होते हैं, जो पड़ोसी देशों में आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देते हैं, लेकिन पाकिस्तान इन आरोपों से इनकार करता आया है।

loksabha election banner

हालांकि, पाकिस्तान के इन दावों की पोल एक बार फिर खुल गई है। पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के कोह-सब्ज क्षेत्र में स्थित आतंकी संगठन जैश अल-अदल के ठिकानों को ईरान ने निशाना बनाया है।

ऐसे में आपको आतंकी संगठन जैश अल अदल के बारे में बताते हैं, ये संगठन कब बना और ईरान ने उसके खिलाफ एयरस्ट्राइक क्यों की।

ईरान ने पाकिस्तान पर क्यों की एयरस्ट्राइक?

दरअसल, ईरान ने मंगलवार को जैश अल अदल के दो ठिकानों को निशाना बनाया है। इस हमले में दो बच्चों की मौत हुई है, जबकि तीन अन्य घायल हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस संगठन ने ईरान के दक्षिण-पूर्व में सिस्तान-बलूचिस्तान प्रांत के रस्क शहर में पुलिस स्टेशन पर हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में 11 पुलिसकर्मी मारे गए थे। जिसके बाद ईरान ने जैश अल अदल के ठिकानों पर एयरस्ट्राइक की।

कब बना जैश अल अदल?

  • जैश अल अदल की स्थापना साल 2012 में की गई थी।
  • यह एक सुन्नी आतंकवादी संगठन है, जिसका सरगना सलाउद्दीन फारूकी है।
  • जैश अल अदल ने अपनी स्थापना के बाद से ही ईरान में कई हमलों को अंजाम दिया है।
  • साथ ही जैश अल अदल ने कई बार ईरान के बॉर्डर से ईरानी सुरक्षा कर्मियों को भी अगवा किया है।
  • आतंकी संगठन का दावा है कि इसका मकसद सिस्तान और बलूचिस्तान प्रांत की स्वतंत्रता है।
  • जैश अल अदल ने दिसंबर 2023 में सिस्तान-बलूचिस्तान में एक पुलिस स्टेशन पर हमले को अंजाम दिया था, जिसमें 11 ईरानी अधिकारी मारे गए।

इन देशों ने घोषित किया आतंकी संगठन

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत से चल रहे जैश अल अदल को कई देशों ने पाबंदी लगाई है। जापान, न्यूजीलैंड और अमेरिका ने जैश अल अदल को आतंकी संगठन घोषित कर रखा है।

यह भी पढ़ें- Iran Airstrike: बलूचिस्तान में ईरान की एयरस्ट्राइक से 2 बच्चों की मौत, पाकिस्तान ने दी परिणाम भुगतने की चेतावनी

पाकिस्तान ने क्या कहा?

वहीं, ईरान द्वारा की गई एयरस्ट्राइक की पाकिस्तान ने कड़ी निंदा की है। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा कि ईरान ने उनके हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया है। यह हमला पूरी तरह से अस्वीकार्य है और इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

जयशंकर के दौरे के एक दिन बाद किया हमला

बता दें कि भारत के विदेश मंत्री जयशंकर सोमवार को ईरान दौरे पर पहुंचे थे। यहां उन्होंने ईरान के विदेश मंत्री से मुलाकात की थी। दोनों नेताओं के बीच कई मुद्दों पर चर्चा भी हुई। हालांकि, जयशंकर के दौरे के एक दिन बाद मंगलवार को ईरान ने आतंकी संगठन जैश अल अदल को निशाना बनाया।

यह भी पढ़ें- Iran Strike Pakistan: 'ईरान के हमले के हो सकते हैं गंभीर परिणाम', एयर स्ट्राइक पर भड़का पाकिस्तान; अधिकारी को किया तलब


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.