नई दिल्‍ली (स्‍पेशल डेस्‍क)। हैदराबाद में मंगलवार से आठवां वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन शुरू हो गया है। ये सम्‍मेलन कई लिहाज से बेहद खास माना जा रहा है। इसकी एक बड़ी वजह सम्मेलन में बतौर महिला उद्यमी हिस्‍सा लेने आई अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की बेटी भी हैं। इसके अलावा वह अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्‍व भी कर रही हैं। इस वजह से देश और दुनिया का मीडिया का ध्‍यान भी इधर है। बहरहाल, हैदराबाद के इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हो रहे इस सम्‍मेलन से इतर जरा विश्‍व पटल पर महिला उद्यमियों की बात करें तो फोर्ब्‍स की टॉप 10 महिला उद्यमियों की सूची में महज एक भारतीय महिला का जिक्र होता है। इनका नाम है किरण मजूमदार शॉ। किरण बायोकॉन की कॉ-फाउंडर हैं। हालांकि दुनिया की टॉप 10 लिस्‍ट में शामिल होना भी अपने आप में गर्व की बात है, लेकिन हैदराबाद में हो रहे शिखर सम्मेलन से इस संबंध में कुछ उम्‍मीद जरूर जताई जा सकती है। यह बताना इसलिए भी जरूरी है क्‍योंकि यह शिखर सम्‍मेलन महिला उद्यमियों पर ही केंद्रित है।

सम्‍मेलन में महिला उद्यमियों की संख्‍या ज्‍यादा

हैदराबाद में हो रहे इस सम्‍मेलन में 150 देशों के करीब 2000 प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं। भारत और अमेरिका की तरफ से इस सम्‍मेलन में करीब 400-400 प्रतिनिधि हिस्‍सा ले रहे हैं। इस सम्‍मेलन की एक और खास बात यह भी है कि इस बार पहली बार इस सम्‍मेलन में हिस्‍सा ले रही महिला उद्यमियों की संख्‍या पुरुष उद्य‍मियों से अधिक है। इस बार इस सम्‍मेलन में करीब 52 फीसद महिला उद्य‍मी हिस्‍सा ले रही हैं।

ये ले रही हैं हिस्‍सा

भारत की तरफ से इसमें आइसीआइसीआइ बैंक की मैनेजिंग डायरेक्टर चंदा कोचर, उद्यमी व शिक्षाविद सोनम वांगचुक, टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, बैडमिंटन खिलाड़ी व कोच पुलेला गोपीचंद, फैशन डिजायनर अनीता डोंगरे, शेफ विकास खन्ना, गूगल के साउथ ईस्ट एशिया व भारत के उपाध्यक्ष राजन आनंदन सहित कई प्रमुख हस्तियां शामिल हो रही हैं।

पहली बार दक्षिण भारत के किसी देश में हो रहा सम्‍मेलन

यह सम्मेलन पहली बार दक्षिण एशिया के किसी देश में आयोजित किया जा रहा है। इससे पहले यह वाशिंगटन, इस्तांबुल, दुबई, मराकश, नैरोबी, कुआलालंपुर, सिलिकॉन वैली में आयोजित हो चुका है। भारत में इसका आयोजन नीति आयोग और अमेरिकी सरकार के संयुक्त तत्वावधान में हो रहा है। यह सम्‍मेलन 30 नवंबर तक चलेगा। आठ वर्ष पहले तात्कालिक अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नवोन्मेष और उद्यमिता को अमेरिकी एजेंडे में शामिल किया। 2010 में उन्होंने व्हाइट हाउस में पहला वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन आयोजित किया। तब से आज तक यह सम्मेलन हर साल आयोजित किया जा रहा है।

इवांका की अहमियत

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी व शीर्ष सलाहकार इवांका ट्रंप ने राष्ट्रपति चळ्नावों में उनकी जीत तय करने में बड़ी भूमिका निभाई। वह महिलाओं और बच्चों के हित में काम करती हैं। अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप के मळ्काबले कहीं अधिक चर्चाओं में रहने के कारण विदेशी मीडिया उन्हें अमेरिका की अघोषित प्रथम महिला करार कर चुका है। यह इवांका की पहली भारत यात्रा है। अमेरिका में उनके कद को देखते हुए माना जा सकता है कि इस सम्मेलन में उनके शरीक होने के बाद अमेरिका और भारत महिला उद्यमिता के क्षेत्र में नए समझौते कर सकते हैं। साल 2010 में एक ट्वीट में इवांका ने अपने नाम का मतलब समझाया था। उन्होंने लिखा था, ''मेरा असली नाम इवाना है। चेक भाषा में इवांका का मूल नाम इवाना ही होता है।

ये है फोर्ब्‍स की टॉप 10 महिला उद्यमियों की सू‍ची

इस सम्‍मेलन से इतर अब हम आपको उन महिलाओं के बारे में बताते हैं जिन्होंने विश्‍व में एक महिला उद्यमी के तौर पर अमिट छाप छोडी है। ये हैं फोर्ब्‍स की टॉप 10 महिला उद्यमी:-
- सारा ब्‍लैक्‍ले : दुनियाभर की मार्किट में अपने ब्रांड का जलवा बिखेर चुकी सारा फोर्ब्‍स की सूची में नंबर 1 पर हैं। वह लेडीज अंडरगारमेंट के बिजनेस से जुड़ी हुई हैं।
- गिसेले बुंडचेन: सेजा स्किनकेयर की फाउंडर के तौर पर फोर्ब्‍स की लिस्‍ट में दूसरे नंबर पर हैं। इसके अलावा वह दुनिया की फर्स्‍ट सुपरमॉडल भी रही हैं।
- टोरी बर्च लाइफस्‍टाइल लाइन रेंज से जुड़ी हैं और फोर्ब्‍स की लिस्‍ट में तीसरे नंबर पर हैं।
- विली डाई मार्वल टेक्‍नॉलिजी की कॉ-फाउंडर हैं। अपने पति के साथ उन्‍होंने इसकी शुरुआत 1995 में की थी।
- एरियाना हॉफिंगटन हॉफिंगटन पोस्‍ट की संस्‍थापक हैं।
- बियोंस नोव्‍लेस, हाउस ऑफ डेरिओन की कॉ-फाउंडर हैं।
- यांग लेन सन मीडिया की कॉ-फाउंडर हैं।
- किरण मजूमदार शॉ बायोकॉन की कॉ-फाउंडर हैं।

इसके अलावा भारत की दस महिला उद्यमियों की लिस्‍ट में इनका नाम शामिल है:-

- इंदू जैन बैनेट एंड कोलमैन कंपनी से जुड़ी हैं।
- किरण मजूमदार शॉ बॉयोकॉन की कॉ-फाउंडर हैं।
- इंदिरा न्‍यूई पेपसी कॉ कंपनी की चेयरमैन हैं।
- वंदना लूथरा ब्‍यूटी और हैल्‍थ प्रोडेक्‍ट के बिजनेस से जुड़ी हैं।
- नैनालाल किदवई एचएसबीसी की ग्रुप जनरल मैनेजर हैं। वह हावर्ड बिजनेस स्‍कूल से ग्रजुएट होने वाली पहली भारतीय महिला भी हैं।
- चंदा कोचर भारत के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक आईसीआईसीआई की एमडी और सीईओ हैं।
- एक्‍ता कपूर एंटरटेनमेंट इंडस्‍ट्री से जुड़ी हैं।
- सूची मुखर्जी लाइमरोड की सीईओ हैं।
- रिचा कार इंटरनेशनली लॉन्‍जरी ब्रांड के ऑनलाइन स्‍टोर जिवाम की कॉ-फाउंडर हैं।
- आदिति गुप्‍ता मैंस्‍ट्रूपेडिया की कॉ-फाउंडर हैं।

यह भी पढ़ें: ध्यान लगाने से शुरू होता है इवांका का दिन, जेल की तरह लगती थी बोर्डिंग लाइफ

यह भी पढ़ें: इन तीन देशों ने बढ़ा रखी है US समेत यूरोप की भी धड़कनें, जानें क्‍या है वजह 

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान में हो रहे विरोध-प्रदर्शनों में शामिल हैं दो आतंकी संगठन, जानें पूरा मामला 

यह भी पढ़ें: एक बार दागने के बाद 'ब्रह्मोस' को नहीं रोक पाएगी दुनिया की कोई ताकत 
 

Posted By: Kamal Verma