चेन्नई, आइएएनएस। ISRO Chairman K Sivan Fake Account Alert भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने सोमवार को स्पष्ट किया कि उसके अध्यक्ष के. सिवन (K. Sivan) का सोशल मीडिया पर कोई व्यक्तिगत अकाउंट नहीं है। हालांकि, सोशल मीडिया पर के सिवन के नाम से फेक अकाउंट (Fake Account) चलाए जा रहे हैं। इन अकाउंट से चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) के बारे में जानकारी भी दी जा रही है।

इसरो ने एक ट्वीट में कहा, 'यह देखा गया है कि कैलासवादिवु सिवन के नाम से सोशल मीडिया पर कई अकाउंट चलाए जा रहे हैं। हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि इसरो के अध्यक्ष डॉ के.सिवन का सोशल मीडिया पर कोई व्यक्तिगत खाता नहीं है।' 

वहीं, इसरो के अधिकारियों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि ऐसे सभी अकाउंट द्वारा साझा की गई कोई भी जानकारी प्रामाणिक नहीं है। ऐसे में उनपर भरोसा नहीं करें। उन्होंने कहा कि चंद्रयान-2 मिशन और चांद पर लैंडर विक्रम की स्थिति से संबंधित कोई भी अपडेट इसरो की वेबसाइट पर दी जाएगी।

इसरो ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इसरो के आधिकारिक अकाउंट्स की जानकारी दी है:

1- www.twitter.com/isro

2- www.facebook.com/ISRO

3- Youtube ISRO Official

चांद की सतह पर है लैंडर विक्रम
बता दें कि इसरो ने लैंडर विक्रम का पता लगा लिया है। ऑर्बिटर द्वारा भेजी गई थर्मल इमेज के अध्यन से ये साफ हो गया है कि लैंडर चांद की सतह पर ही है। इसरो के एक अधिकारी के मुताबिक लैंडर विक्रम में कोई टूट-फूट नहीं हुई है, वह सही सलामत है, लेकिन चांद की सतह पर लैंडर विक्रम झुकी हुई पोजीशन में है। फिलहाल इसरो लैंडर विक्रम से दोबारा संपर्क साधने की कोशिश में जुटा हुआ है।

चंद्रयान 2 मिशन से जुड़े एक अधिकारी ने सोमवार को दावा करते हुए बताया, 'ऑर्बिटर से मिली थर्मल इमेज को देखकर ये पता चला है कि उसकी हार्ड लैंडिंग हुई है। लैंडर विक्रम में कोई टूट-फूट नही है, मतलब वह सुरक्षित है, लेकिन लैंडर एक झुकी हुई स्थिति में पड़ा हुआ है।

जानें- Orbiter ने किस तकनीक से खोजी Lander Vikram की लोकेशन, कैसे करती है काम

 

इसे भी पढें: जानिए- विक्रम से क्यों टूटा ISRO का संपर्क, वैज्ञानिक बता रहे ये कारण

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप