नई दिल्ली, जेएनएन। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज हमेशा से ही ट्विटर के जरिए विदेशों में फंसे भारतीय की मदद करती रही हैं। इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ जब विदेश में रह रहे एक परेशान भारतीय की समस्याओं को देखते हुए सुषमा स्वराज ने उनकी हिम्मत बढ़ाई है। बता दें कि अली नामक शख्स जो सऊदी अरब की राजधानी रियाद में फंसे हुए है, उन्होंने ट्वीट के जरिए सुषमा स्वराज तक अपनी बात पहुंचाई है। हालांकि उन्होंने अपनी ट्वीट में भारत वापिस ना लौटने पर खुदकुशी करने की भी बात कही है।

अली ने अपनी ट्वीट में लिखा, 'एक बात बताइए, क्या आप मेरी मदद कर सकते हैं या मुझे खुदकुशी कर लेनी चाहिए? मुझे लगभग 12 महीने हो गए हैं, मैं दूतावास से मदद की गुहार लगा रहा हूं। यह बहुत बड़ी मदद होगी अगर आप मुझे भारत वापिस ला पाए तो। मेरे चार बच्चे हैं।' हालांकि इस बार फिर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने खुद आगे आकर इस शख्स की हिम्मत बढ़ाई और हर संभव मदद का भरोसा दिया।

अली को सुषमा स्वराज ने लिखा, 'खुदकुशी की बात नहीं सोचते, हम हैं ना, हमारी एंबेसी आपकी पूरी मदद करेगी।' बता दें कि अपनी ट्वीट में स्वराज ने इस मामले की पूरी रिपोर्ट रियाद में भारतीय दूतावास से भी मांगी है। हालांकि जब दूतावास ने उस व्यक्ति से उनके वीजा की कॉपी और फोन नंबर शेयर करने को कहा तो उन्होंने कहा कि उनके पास वीजा की कॉपी नहीं है, लेकिन एक 'इकामा' है - एक निवास परमिट जो एक रोजगार वीजा पर सऊदी अरब में आने वाले प्रवासियों को जारी होता है। इसके अलावा मेरे पास कोई आईडी नहीं है।

बता दें कि अली ने भारतीय दूतावास को टैग करते हुए ट्वीट किया था कि मेरे परिवार में कुछ समस्या है। मुझे यहां आए 21 महीने हो गए हैं और मैंने छुट्टी नहीं ली है। कृपया मुझे भारत लौटने में मदद करें। वहीं ट्विटर पर अन्य लोगों ने भी अली को सुझाव दिया कि वह दूतावास को अपना फोन नंबर दे, जिससे वह जल्द से जल्द मदद कर पाए।

Posted By: Nitin Arora