नई दिल्‍ली, एजेंसियां। कोरोना महामारी के चलते लगाए गए लॉकडाउन के बाद भारतीय रेलवे ने पूर्वांचल से दिल्‍ली के बीच कनेक्टिविटी को रफ्तार देने का फैसला किया है। इसी योजना के तहत रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने रविवार को शाम 4.45 मऊ-आनंद विहार टर्मिनल द्विसाप्ताहिक विशेष गाड़ी का शुभारंभ किया। उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेन्नई बीच से अट्टीपट्टू (Chennai Beach-Attipattu) की चौथी लाइन और विल्लुपुर की मयलादुथुरई तंजावुर/मयलादुथुरई तिरुवुर एकल रेल लाइन के विद्युतीकरण को राष्ट्र के नाम समर्पित किया।

यह है टाइमिंग 

यह स्पेशल ट्रेन (05139) हर मंगलवार और शुक्रवार को मऊ जंगशन से रात 8.50 बजे रवाना होगी और अगले दिन सुबह 11.30 बजे आनंद विहार रेलवे स्‍टेशन पर पहुंचेगी। वहीं आनंद विहार-मऊ स्पेशल ट्रेन (05140) हर बुधवार और शनिवार को शाम 4.45 से रवाना होकर अगले दिन सुबह 6.20 बजे मऊ जंगशन पहुंचेगी। 

कपड़ा व्‍यापारियों को होगी सहूलियत 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस मौके पर पीएम मोदी को बहुमत के साथ जिताने के लिए पूर्वांचल को लोगों को धन्यवाद दिया। इस ट्रेन से ना केवल आम लोग को यात्रा करने में सहूलियत होगी वरन मऊ से राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली के बीच कनेक्टिविटी बेहतर हो जाएगी। इस स्‍पेशल ट्रेन के चलने से मऊ के कपड़ा व्यापार को काफी सहूलियत होगी। यही नहीं मऊ और जौनपुर के लोगों के लिए भी ट्रेन यात्रा का अतिरिक्त विकल्प होगी। 

चरणबद्ध तरीके से ट्रेन सेवाएं बढ़ा रहा रेलवे 

उल्‍लेखनीय है कि कोरोना लॉकडाउन के बाद रेलवे अपनी ट्रेन सेवाओं को चरणबद्ध तरीके से बढ़ा रहा है। यही नहीं नई परियोजनाओं पर भी काम तेजी से चल रहा है। रेल सेवाएं पूरी तरह कब बहाल होंगी इस बारे में रेलवे कोई निश्चित तारीख तो नहीं बता रहा है लेकिन यात्रियों को सहूलियत देने का काम लगातार जारी है। शनिवार को रेलवे ने कहा था कि यात्री ट्रेन सेवाओं को पूरी तरह बहाल करने के लिए कोई तारीख अभी तक निर्धारित नहीं की गई है। 

सेवाओं की पूरी बहाली की कोई तारीख तय नहीं

दरअसल ऐसी खबरें सामने आई थी कि रेलवे अप्रैल से यात्री ट्रेन सेवाएं पूरी तरह बहाल कर दी जाएंगी। इन खबरों को गलत बताते हुए रेलवे ने अप्रैल में यात्री ट्रेन सेवा पूरी तरह बहाल करने की खबरों से इन्कार किया है। रेलवे ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से हम लगातार स्पष्टीकरण देते रहे हैं। हम फिर से बताना चाहते हैं कि यात्री ट्रेन सेवाओं को पूरी तरह बहाल करने के लिए कोई तारीख निर्धारित नहीं है। हम अपनी ट्रेन सेवाओं को चरणबद्ध तरीके से बढ़ाते रहे हैं।  

65 फीसद से ज्यादा ट्रेनों का हो रहा संचालन 

रेलवे के मुताबिक 65 फीसद से ज्यादा ट्रेनें पहले ही पटरियों पर दौड़ रही हैं। अकेले जनवरी में ही 250 से ज्यादा ट्रेनों को बहाल किया गया है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक कोरोना महामारी शुरू होने के बाद से पहली बार रेलवे ने इस साल फरवरी के शुरुआती 12 दिनों में पिछले साल इसी अवधि की तुलना में माल ढुलाई से ज्यादा राजस्व कमाया है। रेलवे ने शनिवार को अपने आधिकारिक बयान में बताया कि फरवरी के शुरुआती 12 दिनों में उसने माल ढुलाई से 4,571 करोड़ रुपये का राजस्व कमाया है। रेलवे ने पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के दौरान माल ढुलाई से 4,365 करोड़ रुपये कमाए थे।