नई दिल्‍ली, एएनआइ। रेलवे ने वर्तमान में राजधानी स्‍पेशल ट्रेनों पर लागू नियमों में बदलाव करने का फैसला किया है। रेल मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों के लिए एडवांस रिजर्वेशन पीरियड सात दिन से बढ़ाकर 30 दिन किया गया। अब एक महीने पहले ही टिकट ले सकते हैं। इन ट्रेनों में तत्काल बुकिंग नहीं होगी। इसके लिए आरएसी /वेटिंग लिस्ट के टिकट जारी किए जाएंगे। जिनका टिकट वेटिंग लिस्ट में रह जाएगा, उन्हें सफर करने की अनुमति नहीं होगी। 

रेलवे के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर (I&P) राजेश दत्‍त बाजपेयी ने बताया कि इसके लिए कम्प्यूटरीकृत पीआरएस (PRS) काउंटरों सहित डाकघरों, यात्री टिकट सुविधा केंद्र (YTSK) आदि के साथ-साथ आईआरसीटीसी के प्रमाणित एजेंट और कॉमन सर्विस सेंटर्स (CSC) की मदद से ऑनलाइन बुकिंग की जा सकती हैं। य‍ह बदलाव 24 मई को बुकिंग टिकट पर लागू होगा जिसपर 31 मई से यात्रा शुरू की जा सकती है। 

देश में चल रहीं 30 स्पेशल ट्रेनें

रेलवे ने 12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल राजधानी स्‍पेशल ट्रेन शुरू की गई थीं। शुरुआत में देश के चुनिंदा शहरों के लिए 15 जोड़ी ट्रेनें चलाई गईं। यह ट्रेनें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू तवी के लिए थी। स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनें  सिर्फ 22 मई तक के लिए थीं। 

इन ट्रेनों में टिकट कैंसिल कराने वालों की संख्या अधिक होने की वजह से भारतीय रेलवे को अपनी टिकट कैंसिलेशन पुरानी नीति को ही लागू करना पड़ा है। इसके साथ ही बहुप्रतीक्षित टिकटों की प्रतीक्षा सूची की सीमा निर्धारित कर दी गई है, जो ट्रेनों के नियमित संचालन के बाद भी लागू रहेगी। वेटिंग टिकट वाले अब ट्रेनों में प्रवेश नहीं पा सकते है।

सफर करने वाले यात्रियों की संख्या निर्धारित

रेलवे ने ट्रेन में सफर के लिए यात्रियों की संख्या को भी फिक्सड कर दिया है। रेलवे बोर्ड के आदेश के मुताबिक इंडिय रेलवे केटरिंग एंड टूरजिम कॉर्पोरेशन की आधिकारिक वेबसाइट पर ही टिकट की बुकिंग की जा सकेगी। एसी 3 टियर में 100 वेटिंग लिस्ट और एसी 2 टियर में 50 टिकटें वेटिंग लिस्ट कोटे में बुक हो सकेंगी। इसके अलावा बोर्ड ने 200 वेटिंग टिकटें स्लीपर क्लास के लिए निर्धारित की गईं।

लक्षण होने पर रेल यात्रा रद हुई तो मिलेगा पूरा रिफंड

रेलवे ने कहा है कि थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान कंफर्म टिकट पाने वाले यात्री में अगर किसी तरह के लक्षण पाए जाते हैं तो उसे सफर की इजाजत नहीं होगी। इसके साथ ही उसे टिकट का पैसा रिफंड कर दिया जाएगा।

यात्रा के लिए किया सतर्क 

आईआरसीटीसी ने यात्रा के दौरान यात्रियों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सतर्क किया है। आईआरसीटीसी ने कहा है कि रेल यात्रा के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सावधानी बरतें। नियमित हाथ धोएं, मास्क पहनें एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। साथ ही आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करें।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस