नई दिल्‍ली, पीटीआइ। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आइओएल) आज यानी शुक्रवार से एयर इंडिया को ईंधन की सप्लाई रोक देगा। पिछले बकाये के भुगतान को लेकर आइओसी ने सख्त कदम उठाया है। तय कार्यक्रम के मुताबिक, एयर इंडिया को हर महीने बकाया भुगतान के मद में 100 करोड़ रुपये देने थे, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सकी। एयर इंडिया पर तीन प्रमुख सरकारी तेल कंपनियों का लगभग 5,000 करोड़ रुपये का ईंधन भुगतान बकाया चल रहा है। पिछले दिनों कंपनी ने इन राशियों के भुगतान की बात कही थी। तेल कंपनियों का कहना है कि अगर इस समस्या का कोई समाधान नहीं निकलता है, तो शुक्रवार से छह प्रमुख हवाइअड्डों पर कंपनी की ईंधन आपूर्ति रोकने के अलावा उनके पास कोई और चारा नहीं बचेगा।

पिछले दिनों इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के वित्त निदेशक संदीप कुमार गुप्ता ने बताया था कि एयर इंडिया ने जून और सितंबर दोनों बार तीनों कंपनियों को हर माह 100 करोड़ रुपये का भुगतान करने का वादा किया था, ताकि उस पर ईंधन भुगतान के 5,000 करोड़ रुपये बकाये का निपटान हो सके। हालांकि, कंपनी ऐसा करने में असमर्थ रही है। बकाये का भुगतान ना किए जाने पर इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम को एयर इंडिया की ईंधन आपूर्ति रोकने पर मजबूर होना पड़ेगा। एयर इंडिया को यह सूचना दी जा चुकी है कि हम प्रमुख हवाई अड्डों पर 18 अक्टूबर से ईंधन आपूर्ति रोक देंगे।

इसे भी पढ़ें: Air India का टैक्सीबोट इस्तेमाल करना क्यों है चर्चा में, क्या होता है टैक्सीबोट, ऐसा करने वाली पहली एयरलाइन कैसे बनी एयर इंडिया

गौरतलब है कि सरकारी तेल कंपनियों ने एयर इंडिया को चेतावनी दी थी कि अगर वह 18 अक्टूबर तक ईंधन का मासिक एकमुश्त भुगतान नहीं करता है, तो देश के छह प्रमुख हवाई अड्डों पर तेल की सप्लाई रोक दी जाएगी। बता दें कि अगस्त के अंत में तीनों तेल कंपनियों ने भुगतान में चूक की वजह से एयर इंडिया को छह एयरपोर्ट पर तेल सप्लाई रोक दी थी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस