नई दिल्ली, जेएनएन। Weather Update देशभर में भारी बारिश से हालात बेकाबू हो गए हैं।केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र और तमिलनाडु जैसे कई राज्यों में बाढ़ से हालात गंभीर बन गए हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) का अनुमान है कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गोवा, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और केरल में आने वाले 48 घंटों में भीषण बारिश की आशंका है।

केरल में भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आज के लिए राज्य के 9 जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है।

बाढ़ के हालात को लेकर एनडीआरएफ डीजी एसएन प्रधान ने कहा है कि महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल राज्य को लेकर सबसे ज्यादा चिंता का विषय है। उन्होंने बताया कि अधिकतर एनडीआरएफ टीमों की तैनाती इन्हीं राज्यों में की गई है।

केरल के वायनाड जिले के मेप्पडी से अबतक कुल 6 शव बरामद किए गए हैं। यहां गुरुवार को भूस्खलन हो गया था, जिसके बाद से लगातार रेस्क्यू ऑपेरशन चलाया जा रहा है।

मध्य प्रदेश के शाजापुर में मक्सी-गुना रेलवे अंडर-ब्रिज में भारी बारिश हुई जिससे पूरे इलाके में जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है।

कोच्चि में इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बंद होने के बाद नौसेना लोगों की मदद के लिए आगे आई है। नौसेना के प्रवक्ता कैप्टन डीके शर्मा ने कहा है भारतीय नौसेना ने इंटरनेशनल एयरपोर्ट की अनुपलब्धता के कारण कोच्चि में नागरिक विमान संचालन के लिए अपना हवाई अड्डा आईएनएस गरुड़ खोल दिया है।

कर्नाटक में बाढ़ के हालात को जानने के लिए मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने घाटप्रभा और मलप्रभा नदी बेसिन का हवाई सर्वेक्षण किया है।

केरल में बाढ़ ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई है। केरल के वायनाड में भूस्खलन ने लोगों को सबसे ज्यादा प्रभावित किया है। केरल के सीएम पिनराई विजयन ने राज्य में बाढ़ के हालात को लेकर प्रेस कांन्फ्रेंस की है।उन्होंने बताया कि राज्य में 315 राहत शिविर लगाए गए हैं जहां 22,000 लोगहैं। इन शिविरों में ज्यादातर लोग वायनाड के हैं। राज्य भर में मरने वालों की संख्या 22 है। वर्षा की तीव्रता कल कम होने की संभावना है, लेकिन 15 अगस्त से और तेज बारिश हो सकती है।

देशभर में विशेषकर केरल, कर्नाटक, गुजरात और महाराष्ट्र में बाढ़ की स्थिति को लेकर गृह मंत्रालय में एक उच्च-स्तरीय बैठक चल रही है। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय एनडीआरएफ महानिदेशक, आपदा विभाग के अधिकारियों, वायु सेना और सेना के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर रहे हैं।

केरल में भारी बारिश, तेज हवाओं और भूस्खलन से भारी तबाही हुई है। वायनाड में भूस्खलन ने तबाही मचा रखी है। वायनाड में मेप्पडी के पास पुथुमाला से एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल) ने 60 लोगों को बचाया है। अबतक लगभग 100 से ज्यादा लोगों को अबतक इस रेस्क्यू ऑपरेशन में बचाया गया है।

केरल में बाढ़ से तबाही का मंजर है। यहां पट्टाबी पुल पर आवागमन बंद हो गया है। भरथप्पुझा नदी का जलस्तर बढ़ जाने से पूरा पुल ही बह गया।

कर्नाटक में बाढ़ के बाद भारतीय वायुसेना लोगों की मदद के लिए आगे आ गई है।  भारतीय वायु सेना की टीमों ने बेलगावी में बाढ़ राहत अभियान चलाया। Roggi, Halolli, Udhagatti और Girdal से कुल 25  आम नागरिकों को भारतीय वायुसेना ने बचाया है। प्रभावित क्षेत्रों में पीने के पानी के साथ लगभग 475 खाद्य पैकेट बांटे गए।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के भैरमगढ़ ब्लॉक में गुदरा नाले से 15 लोगों को बचाया गया है, यहां बारिश के कारण बाढ़ आने से लोग फंस गए थे।

उत्तराखंड: चमोली जिले के देवल ब्लॉक के पद्मल्ला और फलदिया गांव में बादल फटने से एक महिला और एक बच्चे की मौत हो गई। घटना में करीब 10 घरों की दीवारें क्षतिग्रस्त हो गईं। बचाव दल और जिला प्रशासन घटनास्थल पर मौजूद हैं।

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की टीमें बचाव अभियान में जुटी हुई हैं। महाराष्ट्र में बाढ़ ने भीषण तबाही मचाई है।

कर्नाटक के मंगलुरू में बाढ़ का असर उड़ानों पर भी पड़ रहा है। यहां एयर इंडिया की 6 उड़ानों को रद्द कर दिया गया है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने हिमाचल प्रदेश के कई जिलों में बारिश को लेकर पूर्वानुमान जारी किया है। हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला, मंडी, मनाली, कुल्लू, बिलासपुर, ऊना, पालमपुर, हमीरपुर, सोलन, शिमला में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

इस बीच केरल के कोच्चि में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे  के पार्किंग क्षेत्र में बाढ़ का पानी भरने के बाद उड़ानों का परिचालन रविवार(11 अगस्त) दोपहर 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

कोचीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (सीआईएसल) की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'बाढ़ के कारण पार्किंग क्षेत्र जलमग्न हो गया है, कोच्चि हवाई अड्डे पर सभी उड़ानें 11 अगस्त(रविवार) दोपहर 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई हैं।'

केरल सरकार ने बाढ़ की स्थिति को देखते हुए आज राज्य के सभी स्कूलों के लिए छुट्टी की घोषणा कर दी है।

केरल के राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (KDSMA) ने बाढ़ से जुड़े कुछ आंकड़े बताए हैं। जिसके मुताबिक, पूरे राज्य में 315 कैंपों में 22,165 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के सूत्रों के मुताबिक, यह अलर्ट केरल के इडुकी, मलप्पुरम, कोझीकोड और वायनाड में जारी किया गया है। राज्य की अधिकतर नदियों और बांधों का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। कन्नूर, वायनाड, इडुकी, मलप्पुरम, कोझीकोड और कासरगोड में बाढ़ जैसे हालात हैं। 

आंध्र प्रदेश के कलिंगपट्टनम समुद्र तट पर बारिश के बाद समुद्र में जलस्तर बढ़ने से जानवरों की मूर्तियाँ पानी में डूब गईं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप