नई दिल्ली, एजेंसी। Fani Cyclone: समुद्र से उठने वाला तूफान जब विकराल रूप धारण कर लेता है तो वह इंसानों के लिए भी खतरनाक हो जाता है। समुद्र से उठने के कारण इन तूफानी हवाओं में भरपूर नमी होती है, जो जमीन पर आते ही मूसलाधार बारिश करता है। सैकड़ों किमी की रफ्तार से चलने वाली हवाएं अपने रास्ते में पड़ने वाली हर चीज को उखाड़ फेंकने को आतुर रहती हैं। फानी भी ऐसा ही समुद्री तूफान है, जिसने भारत के पूर्वी तट पर दस्तक दी है।

यह भी पढ़ें- Fani Cyclone से जुड़ी हर अपडेट जानने के लिए यहां क्लिक करें

Fani के ओडिशा तट पर टकराने के साथ ही यहां मूसलाधार बारिश शुरू हो गई। हवाओं की रफ्तार ढाई सौ किमी प्रति घंटा तक पहुंच गई। हालांकि आंध्र प्रदेश से अब फानी का खतरा टल गया है, लेकिन बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, झारखंड में अब भी इसका खतरा बना हुआ है।

Fani तूफान के चलते हजारों-लाखों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट पर है और एनडीआरएफ की टीमें राहत-बचाव कार्य के लिए कमर कसे हुई हैं। अगर आपने आज तक किसी चक्रवाती तूफान का सामना नहीं किया है तो समझ लीजिए कि आप भाग्यशाली हैं। चक्रवाती तूफान में हवा की रफ्तार कितनी होती है यह समझने के लिए नीचे दिए गए वीडियो देखें...

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Digpal Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप