नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। दिल्ली के शराब घोटाला मामले (Delhi Excise Policy) में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की कार्रवाई जारी है। शराब घोटाला मामले में ईडी की टीम शुक्रवार सुबह से छापेमारी कर रही है। ईडी की टीम दिल्ली, पंजाब और आंध्र प्रदेश में छापेमारी कर रही है। शराब घोटाला मामले में इन राज्यों में करीब 35 जगहों पर छापेमारी की जा रही है। ईडी इस मामले में तीसरी बार छापेमारी कर रही है। अब तक करीब 100 ठिकानों पर छापेमारी हो चुकी है।

अब तक दो आरोपी गिरफ्तार

बता दें कि इस मामले में शराब कारोबारी समीर महेंद्रू और आम आदमी पार्टी के संचार प्रभारी विजय नायर को गिरफ्तार किया जा चुका है। शराब घोटाला केस में 17 अगस्त को एफआईआर दर्ज की गई थी। सीबीआई के मुताबिक, नायर ने नई आबकारी नीति बनाने और शराब की सप्लाई और बिक्री को चंद कंपनियों तक सीमित करने की धांधली में अहम भूमिका निभाई थी। इस सिलसिले मे दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर भी छापेमारी की जा चुकी है।

दिल्ली के उप राज्यपाल ने की थी जांच की सिफारिश

गौरतलब है कि दिल्ली की नई आबकारी नीति पर सवाल उठाए जा रहे थे। इसको देखते हुए उप राज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। उनकी सिफारिश के बाद केंद्रीय जांच एजेंसी ने बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू किया था।

AAP और BJP में जुबानी जंग

शराब घोटाला केस को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी में जुबानी जंग भी जारी है। आम आदमी पार्टी का कहना है कि भाजपा पार्टी की लोकप्रियता से बौखला गई है, इसीलिए छापेमारी की जा रही है। वही, भाजपा नेताओं ने मनीष सिसोदिया को डिप्टी सीएम के पद से हटाने की मांग की है।

एजेंसी से मिले इनपुट के आधार पर...

ये भी पढ़ें:

Delhi Excise Policy: दिल्ली सरकार ने सितंबर में पुरानी शराब नीति से कमाए 768 करोड़, रोज बिक रहीं 8 लाख बोतलें

Delhi Liquor Scam: भाजपा का AAP पर हमला, आदेश गुप्ता बोले- एक-एक कर पकड़े जा रहे शराब घोटाले के आरोपित

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट