नई दिल्‍ली [जागरण स्‍पेशल]। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को उस फहरिस्‍त का हिस्‍सा बन गए जिसमें उनसे पहले कई नाम जुड़ चुके हैं। उन्‍होंने बेंगलुरू के एचएएल एयरपोर्ट (HAL Airport) से स्‍वदेशी लड़ाकू विमान तेजस (Tejas Fighter Jet) में उड़ान भरकर यह कारनामा किया है। राजनाथ ने करीब आधे घंटे तक इस विमान से उड़ान भरी। आपको बता दें कि राजनाथ देश के तीसरे ऐसे रक्षा मंत्री हैं जिन्‍होंने किसी फाइटर जेट में उड़ान भरी हो। इसके अलावा वह तेजस विमान से उड़ान भरने वाले देश के पहले रक्षा मंत्री भी हैं। आइए, आपको बताते हैं कि किसने कब-कब इस तरह के कारनामे को अंजाम दिया है। 

इन मंत्रियों के नाम भी हैं दर्ज

जॉर्ज फर्नांडि 

जून 2003 में देश के तत्कालीन रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडीस ने पुणे के लोहगांव वायुसेना अड्डे (Lohegaon Air Base) से सुखोई-30 (Sukhoi-30) में उड़ान भरी थी। वह उस समय 73 वर्ष के थे।

निर्मला सीतारमण

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने जनवरी 2018 में जोधपुर के एयर फोर्स बेस से सुखोई-30 लड़ाकू विमान में उड़ान भरी थी। सुखोई को वायु सेना के सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक माना जाता है।

किरण रिजिजू

मई 2016 में तत्‍कालीन केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री किरण रिजिजू ने पंजाब के हलवारा एयरबेस (Halwara Air Base) से सुखोई 30 एमकेआई (Sukhoi-30 MKI) से उड़ान भरी थी। उनकी यह उड़ान करीब तीस मिनट की थी। यह सुपरसोनिक जेट (Supersonic Fighter Jet) 2100 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार से 56,800 फीट की उंचाई तक जा सकता है।

राजीव प्रताप रूडी

फरवरी 2017 में एयरो इंडिया 2017 शो के दौरान केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने फ्रांसीसी लड़ाकू विमान राफेल (France Fighter Jet Rafale) में को-पायलट के रूप में करीब 35 मिनट की उड़ान भरी थी। आपको बता दें कि रूडी एक ट्रेंड और स्किल्ड पायलट (Trained and Skilled Pilot/Commercial Licence Pilot)  हैं। वह ए-320 समेत कई दूसरे विमान उड़ा चुके हैं।

लड़ाकू विमान में उड़ान भर चुके हैं ये राष्‍ट्रपति

प्रतिभा पाटिल

नवंबर 2009 में राष्‍ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने पुणे के लोहगांव एयरफोर्स बेस (Lohegaon Airforce Base) से सुखोई-30 एमकेआई (Sukhoi-30 MKI) लड़ाकू विमान में उड़ान भरी थी। उनकी यह उड़ान करीब 25 मिनट की थी। इस दौरान उनका विमान दस हजार फीट तक की ऊंचाई तक गया था।

एपीजे अब्‍दुल कलाम

जून 2006 में तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति एपीजे अब्‍दुल कलाम देश के ऐसे पहले राष्‍ट्रपति बने थे जिन्‍होंने इस पद पर रहते हुए किसी लड़ाकू विमान में उड़ान भरी। यह कारनामा उन्‍होंने पुणे के लोहगांव एयरबेस से Sukhoi-30MKI में उड़ान भरकर किया था। जिस वक्‍त उन्‍होंने यह कारनामा किया था उस वक्‍त उनकी उम्र 74 वर्ष थी। एक इंटरव्‍यू में उन्‍होंने बताया था कि वह शुरुआत से ही फाइटर पायलट (Fighter Pilot) बनना चाहते थे, लेकिन 1958 में उन्‍हें रिजेक्‍ट कर दिया था। इसके बाद उन्‍होंने वैज्ञानिक बनने की ठानी थी। 

इस कारनामे को इन कारोबारियों ने भी दिया अंजाम

रतन टाटा

फरवरी 2011 में टाटा समूह के तत्‍कालीन अध्यक्ष रतन टाटा ने 73 वर्ष की उम्र में एयरो इंडिया शो (Aero India Show 2017) में सुपरसोनिक एफ/ए 18 सुपर हार्नेटलड़ाकू विमान (Supersonic F/A18 Super Hornet Fighter Jet) से उड़ान भरी थी। इस दौरान वह करीब 45 मिनट तक हवा में रहे। आपको बता दें कि टाटा कमर्शियल पायलट लाइसेंस होल्‍डर (Ratan Tata Commercial Licence Pilot Holder) हैं। ऐसा दूसरी बार था जब उन्‍होंने किसी लड़ाकू विमान से उड़ान भरी हो। इससे पहले वर्ष 2009 में एक एयर शो के दौरान भी वह सह पायलट के रूप में लॉकहीड मार्टिन एफ16 लड़ाकू विमान (lockheed martin F-16 Fighter Jet) में बैठे थे।

अनिल अंबानी

फरवरी 2017 में ही बिजनेसमैन अनिल अंबानी ने राफेल विमान से उड़ान भरी थी। यह कारनामा उन्‍होंने एयरो इंडिया शो 2017 के दौरान बेंगलुरू के येलहांका एयरबेस (Yelahanka airbase) से किया था। तीस मिनट की इस उड़ान में उनका विमान 6000 मीटर की ऊंचाई तक गया था।  

खेल के क्षेत्र से इन्‍होंने किया ये कारनामा

सायना नेहवाल 

सितंबर 2012 में सायना नेहवाल ने डिंडिगुल स्थित भारतीय वायुसेना प्रशिक्षण अकादमी (Air Force Academy, Dundigal of Hyderabad) से लड़ाकू जेट ट्रेनर विमान किरण मार्क-वन (Kiran MK II Jet Trainer Aircraft) में उड़ान भरी थी। यह विमान वायु सेना की सूर्य किरण एयरोबेटिक्स टीम (Surya Kiran Aerobatics Team) का हिस्सा रहे हैं। इन विमानों का उपयोग अब पायलटों की ट्रेनिंग के लिए किया जाता है। खेल के क्षेत्र से यह इतिहास रचने वाली वह पहली महिला खिलाड़ी भी हैं।  

पीवी सिंधु

फरवरी 2019 में प्रसिद्ध भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने एयरो इंडिया शो में स्वदेश निर्मित लड़ाकू विमान तेजस (Tejas Fighter Jet) से उडा़न भरी थी। खेल के क्षेत्र से किसी लड़ाकू विमान में उड़ान भरने वाली वह दूसरी महिला खिलाड़ी हैं। इसके अलावा तेजस में उड़ान भरने वाली वह पहली महिला खिलाड़ी हैं। उनकी यह उड़ान करीब 40 मिनट की थी। आपको बता दें कि स्‍वदेशी तकनीक से निर्मित इस विमान का निर्माण हिंदुस्तान एरोनॉटिक लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Limited) ने किया है। 

VIDEO: 'तेजस' में उड़ान भरने वाले पहले रक्षा मंत्री बने राजनाथ सिंह, बोले- अद्भुत और शानदार अनुभव
भारत में 460 ब्रांड की 7000 फ्लेवर्ड E-Cigarettes बैन, कई देश लगा चुके हैं प्रतिबंध

Posted By: Kamal Verma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप