नई दिल्ली (प्रेट्र)। राज्यसभा सदस्य राजीव चंद्रशेखर द्वारा वायुसेना को उपहार में दिया गया 1940 का डकोटा डीसी-3 विमान शीघ्र ही बल में शामिल होगा। डकोटा डीसी-3 का एक बड़ा बेड़ा 1988 तक वायुसेना की सेवा में रहा। अपने समय का यह अत्यंत बहुपयोगी परिवहन विमान था। इस विमान को 2011 में स्क्रैप से हासिल किया गया और वायुसेना को उपहार में देने के लिए चंद्रशेखर द्वारा ब्रिटेन में इसे उड़ान भरने के लायक बनाया गया।

चीफ ऑफ एयर स्टाफ ने इसी वर्ष 13 फरवरी को चंद्रशेखर से यह विमान वायुसेना के लिए स्वीकार किया। वायुसेना ने रीफ्लाइट एयरव‌र्क्स लिमिटेड लंदन के साथ एक करार किया है।

इस विमान ने 17 अप्रैल को ब्रिटेन से अपनी यात्रा शुरू की। इसे भारतीय वायुसेना और रीफ्लाइट एयरव‌र्क्स लिमिटेड की संयुक्त टीम भारत ला रहे हैं। यह 25 अप्रैल को जामनगर पहुंचेगा और चार मई को हिंडन वायुसेना अड्डे पर समारोह में इसे शामिल किया जाएगा।

Posted By: Nancy Bajpai