नई दिल्ली, प्रेट्र। भारत ते मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने मंगलवार को कहा कि एक चक्रवाती तूफान के शनिवार की सुबह आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटवर्ती क्षेत्रों में पहुंचने का अनुमान है। मौसम विभाग ने बताया कि थाईलैंड और उसके आसपास के क्षेत्रों में सुबह साढ़े आठ बजे कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ था। अगले 12 घंटों में इसके अंडमान सागर तक पहुंचने की संभावना है।

मौसम विभाग द्वारा जारी बयान के अनुसार उसके बाद कम दबाव के क्षेत्र के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और दो दिसंबर तक दक्षिण-पूर्व और पास के बंगाल की खाड़ी के मध्य भाग में उसके डिप्रेशन में बदलने की संभावना है। उसके अगले 24 घंटों में इसके बंगाल की खाड़ी के मध्य भाग में चक्रवाती तूफान का रूप लेने की आशंका है।

उसके बाद इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने, और सघन होने और चार दिसंबर, शनिवार की सुबह उत्तरी आंध्र प्रदेश-ओडिशा के तटवर्ती क्षेत्रों में पहुंचने की संभावना है।

देश के इन हिस्सों में हो सकती है बारिश

मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार ओडिशा के तटवर्ती क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी और अति भारी बारिश होने का अनुमान है। ओडिशा में आसपास के जिलों, बंगाल के तटवर्ती जिलों और आंध्र प्रदेश के उत्तरी तटवर्ती क्षेत्रों में 'भारी से बहुत भारी बारिश' होने का अनुमान है। मौसम विभाग ने कहा कि संभावना है कि उत्तरी-पूर्वी राज्यों में पांच-छह दिसंबर को तेज बारिश हो सकती है।

बारिश के साथ पहाड़ी क्षेत्रों में हो सकती है बर्फबारी

वहीं, मंगलवार को मौसम विभाग की ओर से जानकारी दी गई कि डिप्रेशन के कारण दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश सहित उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में भी अगले कुछ दिनों में भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के विज्ञानी जेनामणि ने बताया कि राजधानी दिल्ली, एनसीआर, राजस्थान, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी बारिश होने की पूरी संभावना बनी हुई है। पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी भी हो सकती है।