Move to Jagran APP

Cyclone Remal Alert: बंगाल तट से कब टकराएगा चक्रवात 'रेमल'? IMD ने जारी की इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी

Cyclone Remal बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम हवा का दबाव मजबूत होकर गंभीर चक्रवात रेमल के रूप में रविवार शाम तक बांग्लादेश और आसपास के बंगाल तट पर पहुंच जाएगा। भारत मौसम विज्ञान विभाग की विज्ञानी मोनिका शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बन रहा हवा का कम दबाव शनिवार सुबह तक चक्रवात के रूप में मजबूत हो जाएगा।

By Agency Edited By: Sonu Gupta Thu, 23 May 2024 10:30 PM (IST)
बंगाल तट से रविवार को टकराएगा चक्रवात 'रेमल'

पीटीआई, नई दिल्ली। Cyclone Remal Alert: बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम हवा का दबाव मजबूत होकर गंभीर चक्रवात 'रेमल' के रूप में रविवार शाम तक बांग्लादेश और आसपास के बंगाल तट पर पहुंच जाएगा। मौसम विभाग (IMD) ने बंगाल के तटीय जिलों, उत्तरी ओडिशा, मिजोरम, त्रिपुरा और दक्षिण मणिपुर में आगामी 26-27 मई को भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

चक्रवात का ऐसे पड़ा नाम रेमल

समुद्र में गए मछुआरों को तटों पर लौटने और 27 मई तक बंगाल की खाड़ी में नहीं जाने की सलाह दी गई है। इस प्री-मानसून सीजन में बंगाल की खाड़ी में यह पहला चक्रवात है और हिंद महासागर क्षेत्र की नामकरण प्रणाली के तहत इसका नाम रेमल रखा गया है।

शनिवार सुबह गंभीर रूप लेगा चक्रवात

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) की विज्ञानी मोनिका शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बन रहा हवा का कम दबाव शनिवार सुबह तक चक्रवात के रूप में मजबूत हो जाएगा और रविवार शाम तक बंगाल के तटों से टकराएगा। चक्रवात के कारण रविवार को 102 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है।

1880 में दर्ज किया गया था तापमान

विज्ञानियों का कहना है कि समुद्र की सतह के गर्म तापमान के कारण चक्रवात तेजी से तीव्र हो रहे हैं और लंबे समय तक अपनी शक्ति बरकरार रख रहे हैं। 1880 में तापमान दर्ज किए जाने के बाद से 30 सालों में इस बार समुद्र की सतह का तापमान सर्वाधिक है।