पुणे, पीटीआई। देश की समुद्री सुरक्षा को और मजबूती मिलने जा रही है। नौसेना में हाल ही में शामिल किए गए स्वदेशी विमान वाहक पोत 'आइएनएस विक्रांत' को अगले वर्ष मई या जून तक उसके विमान भी मिल जाएंगे। नौसेना प्रमुख एडमिरल आर. हरि कुमार ने बुधवार को यह जानकारी दी। महाराष्ट्र के पुणे जिले में खड़कवासला स्थित राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) में 143वें बैच की पासिंग आउट परेड का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में एडमिरल हरि कुमार ने कहा कि समुद्री परीक्षण पूरे होने के बाद ही विमान वाहक पोत को नौसेना में शामिल किया गया है।

अब पोत पर विमानों को तैनात करने के परीक्षण शुरू हो गए हैं। उन्होंने कहा, 'सबसे पहले हमें विमानों के उतरने की प्रणाली का परीक्षण करना पड़ेगा। ये परीक्षण अभी जारी हैं। सामान्य तौर पर विमानों को शामिल किए जाने के छह से आठ महीने के बीच उन्हें तैनात किया जाता है। हमें उम्मीद है कि मानसून से पहले मई या जून में हम इसे पूरा कर लेंगे।

'एडमिरल हरि कुमार ने कहा, 'भारतीय नौसेना में आधुनिकीकरण का कार्यक्रम चल रहा है। हमने पहला स्वदेशी छोटा युद्धपोत 1960 में शामिल किया था। तब से हम बड़े, और बड़े पोत बना रहे हैं। इसके बाद हमने डिस्ट्रायर्स, कल्मीनेटर्स और एयरक्राफ्ट कैरियर्स बनाने शुरू किए। संयोग से (नया) विमान वाहक पोत 76 प्रतिशत स्वदेशी है। इसलिए यह देश के लिए बड़ी उपलब्धि है।' नौसेना प्रमुख ने कहा कि पिछले सात वर्षों में देश में निर्मित 29 पोतों और पनडुब्बियों को नौसेना में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा, 'अभी 45 पोत निर्माणाधीन हैं और इनमें से 43 देश में बन रहे हैं।

49 अन्य पोतों के लिए हम आवश्यकता की स्वीकृति की प्रक्रिया में हैं। इसलिए ज्यादा फोकस आधुनिकीकरण की योजना पर है और सरकार हमारी मदद कर रही है। काम उम्मीद के मुताबिक प्रगति पर है।' भारतीय नौसेना के बजट के बारे में पूछे जाने पर एडमिरल हरि कुमार ने कहा, 'बजट की कोई समस्या नहीं है। हम जिन कार्यक्रमों को आगे बढ़ा रहे हैं, उसके लिए सरकार से पर्याप्त बजटीय मदद मिल रही है।'

नौसेना में महिला नाविकों को किया जा रहा शामिल : नौसेना प्रमुखॉ

एडमिरल हरि कुमार ने कहा कि नौसेना में पहले से ही महिला फाइटर पायलट व एयर आपरेशन आफिसर्स हैं और अब महिला नाविकों को भी शामिल किया जा रहा है। आगामी वर्षों में बाकी बची शाखाओं को भी महिलाओं के लिए खोला जाएगा।

Video: Indian Navy के New Ensign में Chhatrapati Shivaji महाराज के शासनकाल से संबंध जानते हैं आप?

नौसेना प्रमुख ने बताया कि नौसेना में नाविकों की 3,000 रिक्तियों के लिए लगभग 10 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं और इनमें से 82 हजार आवेदन महिलाओं के हैं। इनमें से कितनी सभी मानकों पर खरी उतर पाएंगी, यह कहना मुश्किल है क्योंकि शिक्षा और शारीरिक योग्यता के मानदंड सभी के लिए समान हैं।

ये भी पढ़ें: Fact Check Story: राहुल गांधी ने नहीं दिया चीलों के बेरोजगार होने का बयान, वायरल हो रहा ऑल्टर्ड वीडियो

नौसेना को मिला प्रोजेक्ट 15बी का दूसरा जहाज, 7400 टन भार वहन कर सकता है यह युद्धपोत

Edited By: Shashank Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट