नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए लोग सफर करने से परहेज कर रहे हैं और लगातार टिकट रद कराए जा रहे हैं। यात्रियों की कमी की वजह से भारतीय रेलवे ने 20 मार्च से 31 मार्च तक 168 ट्रेनों को रद कर दिया है। रेलवे ने कहा है कि कोरोना वायरस के कारण रद की गई ट्रेनों के लिए कोई कैंसिलेशन चार्ज नहीं लिया जाएगा। ट्रेन कैंसल होने पर यात्रियों को 100 प्रतिशत रिफंड मिलेगा

आलम यह है कि चालू महीने के दौरान लोगों ने 60 फीसद रेलवे टिकट रद करा लिए हैं।इससे पहले रेलवे ने बुधवार को जहां 99 ट्रेनें और मंगलवार को 85 ट्रेनें रद की थी। इन ट्रेनों में बुकिंग भी कम हुई थी। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को पश्चिम मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे की 11-11 ट्रेनें रद की गईं, जबकि दक्षिण मध्य और उत्तरपूर्व फ्रंटियर रेलवे की 20-20 ट्रेनों को रद किया गया है। सर्वाधिक 32 ट्रेनें दक्षिण रेलवे और सबसे कम पांच पूर्व मध्य रेलवे की रद की गई हैं।

वहीं, उत्तर रेलवे ने मंगलवार को हजरत निजामुद्दीन-छत्रपति शिवाजी महाराज मुंबई टर्मिनल राजधानी और फिरोजपुर शताब्दी सहित चार ट्रेनें रद करने की घोषणा की थी। वहीं, बुधवार को भी मुंबई दुरंतो सहित छह ट्रेनें रद करने का एलान कर दिया गया है।

रेल अधिकारियों का कहना है कि ट्रेन में पर्याप्त बकिंग नहीं होने के कारण यह कदम उठाना पड़ रहा है। रेल यात्रियों की संख्या भी लगातार कम हो रही है। कई ट्रेनों में दस फीसद भी बु¨कग नहीं हो रही है। इस वजह से ट्रेनें रद की जा रही हैं।

 ट्रेन - निरस्त रहने की अवधि

1. कोटा - हजरत निजामुद्दीन स्पेशल (09809/09810) - 18 मार्च से 1 अप्रैल

2. जबलपुर - अटारी वाया इटारसी साप्ताहिक स्पेशल (01709/01710) - 21 से 29 मार्च

3. जबलपुर - अटारी वाया कटनी साप्ताहिक स्पेशल (01707/01708) - 24 मार्च से 1 अप्रैल

4. जबलपुर - हरिद्वार साप्ताहिक स्पेशल (01701/01702) - 25 व 26 मार्च

5. जबलपुर - हजरत निजामुद्दीन सुपरफास्ट (12192/12191) - 19 से 31 मार्च

6. मुंबई सेंट्रल - नई दिल्ली दुरंतो एक्सप्रेस (22209) - 20 से 30 मार्च

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस