कलबुर्गी (एएनआइ)। गरीब परिवार की लड़कियों के लिए बसवराज एक मसीहा बन गए हैं। बसवराज कलबुर्गी के मकतमपुरा में स्थित एमपीएचएस सरकारी हाई स्कूल में क्लर्क हैं। वह गरीब लड़कियों के बीच शिक्षा दान कर उनकी जीवन संवार रहे हैं। बसवराज की मदद से एक दो नहीं बल्कि 45 लड़कियों का जीवन संवर गया है। वह स्कूल की 45 गरीब लड़कियों की फीस भरते हैं। इन छात्राओं के माता-पिता फीस देने में असमर्थ हैं। यह लड़कियां पढ़-लिखकर आगे बढ़ सके इसलिए इनकी पढ़ाई का खर्चा बसवराज उठाते हैं।

बसवराज की एक बेटी थी धनेश्वरी, जिसकी पिछले साल बीमारी के चलते मौत हो गई थी। उसी की याद में उन्होंने इन स्कूली छात्राओं की फीस जमा करने का निर्णय लिया। बसवराज ने बताया की इस साल से मैंने इस स्कूल में पढ़ाई करने वाली गरीब लड़कियों की फीस चुकानी शुरू कर दी है।

एमपीएचएस सरकारी हाईस्कूल की छात्रा फातिमा ने कहा, 'हम गरीब परिवारों से हैं और हम स्कूल की फीस का भुगतान नहीं कर सकते। बसवराज सर अपनी बेटी की याद में हमारी स्कूल फीस का भुगतान करते हैं। हम चाहते हैं कि उनकी बेटी की आत्मा को शांति मिले।'

Edited By: Arti Yadav