Move to Jagran APP

लोकसभा में गूंजा चेन्नई बाढ़ का मुद्दा, प्राकृतिक आपदा विभाग बनाने की मांग

चेन्नई में हुई तबाही पर लोकसभा के शीतकालीन सत्र में भी चर्चा की गई। लोकसभा में इस तबाही के बारे में चर्चा करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि चेन्नई में 24 घंटे में 330 मिमी बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि स्थिति की गंभीरता को समझते हुए

By Abhishek Pratap SinghEdited By: Published: Thu, 03 Dec 2015 12:09 PM (IST)Updated: Thu, 03 Dec 2015 01:42 PM (IST)

नई दिल्ली। चेन्नई में हुई तबाही पर लोकसभा के शीतकालीन सत्र में भी चर्चा की गई। लोकसभा में इस तबाही के बारे में चर्चा करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि चेन्नई में 24 घंटे में 330 मिमी बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि स्थिति की गंभीरता को समझते हुए पीएम मोदी ने 930 करोड़ रुपये जारी किए हैं।सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने लोकसभा में प्राकृतिक आपदा विभाग बनाए जाने की मांग की। इस मांग पर जवाब देते हुए गृहमंत्री ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए पहले से ही विभाग काम कर रहा है।

उन्होंने लोकसभा में बोलते हुए कहा कि तमिलनाडु में स्थिति बेहद गंभीर और दयनीय है जिससे कि राहत पहुंचा पाना भी मु्श्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र की टीम ने बाढ़ में नुकसान का आंकलन किया है और वहां के हालात पर केंद्र पूरी नजर बनाए हुए है।

राजनाथ सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि तमिलनाडु में हुई बारिश ने पिछले 100 साल की रिकॉर्ड तोड़ा है। भारी बारिश के चलते वहां ट्रेनें भी बाधित हुई हैं लेकिन कोशिश ये हो रही है कि नजदीकी रेलवे स्टेशनों तक ट्रेनों को पहुंचाया जाए।

तो वहीं मौसम विभाग ने भी कहा है कि अगले 48 घंटे तमिलनाडु में भारी बारिश होने की पूरी संभावना है।

यह भी पढ़ें : चेन्नई बाढ़: बारिश की विनाशलीला का जायजा लेने पीएम रवाना, अब तक 269 की मौत


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.