Move to Jagran APP

'भाजपा ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की हार से सबक नहीं सीखा', CM एम के स्टालिन ने केंद्र सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने गुरुवार को भाजपा और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। धर्मपुरी में मक्कलुदन मुधलवर योजना का विस्तार करते हुए सीएम स्टालिन ने कहा कि केंद्र सरकार राज्य में प्रमुख परियोजनाओं के लिए धन स्वीकृत नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने तमिलनाडु में चुनावी हार से कोई सबक नहीं सीखा है।

By Jagran News Edited By: Siddharth Chaurasiya Thu, 11 Jul 2024 06:00 PM (IST)
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने गुरुवार को केंद्र सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए।

पीटीआई, धर्मपुरी (तमिलनाडु)। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने गुरुवार को केंद्र सरकार पर राज्य में प्रमुख परियोजनाओं के लिए धन स्वीकृत नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि तमिलनाडु में अपनी लगातार चुनावी हार से कोई सबक नहीं सीखा है।

यहां ग्रामीण क्षेत्रों में 'मक्कलुदन मुधलवर' योजना का विस्तार करते हुए स्टालिन ने कहा कि इसके माध्यम से सरकार यह सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है कि किसी को कोई शिकायत न हो। उन्होंने आरोप लगाया कि लोगों के लिए इस तरह के प्रतिबद्ध काम से विपक्षी दलों को जलन हो रही है और इसीलिए वे 'दुष्प्रचार' के जरिए राज्य सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

मोदी सरकार पर भेदभाव करने का आरोप

सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी वर्गों के लोगों के लिए है, चाहे उन्होंने डीएमके को वोट दिया हो या नहीं। दूसरों में ऐसी उदारता नहीं देखी जा सकती।

स्टालिन ने कहा, "भाजपा ने 2024 के लोकसभा चुनाव और राज्य में पिछले चुनावों से कोई सबक नहीं सीखा है।" केंद्र सरकार के पास चेन्नई में मेट्रो रेल फेज-2 जैसी तमिलनाडु की प्रमुख परियोजनाओं के लिए 'धन आवंटित करने का दिल नहीं है' और इसने अपने शासन के पिछले 10 वर्षों के दौरान राज्य में कोई भी बड़ी परियोजना लागू नहीं की है।

स्टालिन ने अपनी सरकार की सफलताएं गिनाई

उन्होंने कहा, "तमिलनाडु के लोगों की ओर से मैं कहता हूं, उन्हें (केंद्र में भाजपा सरकार को) कम से कम अब यह एहसास हो जाना चाहिए कि केंद्र सरकार सभी लोगों के लिए एक समान शासन होनी चाहिए, जो पसंद और नापसंद से परे हो।" सीएम स्टालिन ने कहा, "जहां तक ​​डीएमके का सवाल है, हम लोगों के साथ हैं और लोग हमारे साथ हैं; यही हमारी सफलता का राज है और यही तमिलनाडु के विकास का राज है।"

बता दें कि 'मक्कलुदन मुधलवर' योजना के विस्तार का शुभारंभ करते हुए उन्होंने लोगों की शिकायतों का समाधान करने और शिकायतों के निवारण के लिए सीएम हेल्पलाइन सहित सेवाओं को एकीकृत करके एक नया विभाग 'मुधलवरिन मुगावरी' बनाने जैसी पहलों को याद किया।

7 मई, 2021 को कार्यभार ग्रहण करने की तारीख से अब तक 68.30 लाख शिकायतों में से 66.25 लाख शिकायतों का निपटारा किया जा चुका है और संबंधित मुद्दों का समाधान किया जा चुका है। अकेले धर्मपुरी जिले में 72,438 शिकायतों में विस्तृत मुद्दों का समाधान किया गया है।