Move to Jagran APP

Andhra Pradesh: चंद्रबाबू नायडू का बड़ा एलान, अमरावती ही होगी आंध्र प्रदेश की राजधानी, पलटा जगन रेड्डी का फैसला

Andhra Pradesh Capital अमरावती अब आंध्र प्रदेश की नई राजधानी होगी। चंद्रबाबू नायडू ने इसकी घोषणा की है। मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने से एक दिन पहले टीडीपी सुप्रीमो ने मंगलवार को कहा कि अमरावती राज्य की एकमात्र राजधानी होगी। इस एलान से नायडू ने जगन मोहन रेड्डी के तीन राजधानियों वाले फैसले को पलट दिया है। पढ़ें पूरी खबर..

By Agency Edited By: Sachin Pandey Published: Tue, 11 Jun 2024 03:06 PM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 03:06 PM (IST)
चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि अमरावती राज्य की एकमात्र राजधानी होगी। (File Photo)

पीटीआई, अमरावती। अमरावती अब आंध्र प्रदेश की एकमात्र राजधानी होगी। चंद्रबाबू नायडू ने इसकी घोषणा की है। मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने से एक दिन पहले टीडीपी सुप्रीमो ने मंगलवार को कहा कि अमरावती राज्य की एकमात्र राजधानी होगी।

नायडू ने टीडीपी, बीजेपी और जनसेना विधायकों की एक संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए यह घोषणा की, जहां उन्हें सर्वसम्मति से आंध्र प्रदेश विधानसभा में एनडीए नेता चुना गया। उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार में तीन राजधानियों की आड़ में कोई खेल नहीं होगा। हमारी राजधानी अमरावती है, अमरावती राजधानी है।'

2014 में बनी थी योजना

गौरतलब है कि चंद्रबाबू ने 2014 और 2019 के बीच विभाजित आंध्र प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री के रूप में अमरावती को राजधानी बनाने का विचार रखा था। हालांकि, उनकी इस योजना को 2019 में झटका लगा, जब टीडीपी ने सत्ता खो दी और वाई एस जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआरसीपी ने भारी जीत हासिल की।

जगन मोहन रेड्डी ने नायडू के अमरावती को राजधानी बनाने की योजना पर पानी फेर दिया और तीन राजधानियों का एक नया सिद्धांत सामने रखा। जिसके अनुसार विशाखापत्तनम को प्रशासनिक, अमरावती को विधायी और कुरनूल को न्यायिक राजधानी बनाने का निर्णय लिया गया था। इसे लेकर कानूनी अड़चनें भी सामने आई थीं।

नायडू ने पलटा फैसला

अब नायडू ने एक ही राजधानी के निर्णय से उसे बदल दिया है। बताते चलें कि टीडीपी, बीजेपी और जनसेना के एनडीए गठबंधन ने राज्य में हाल ही में एक साथ संपन्न हुए लोकसभा और विधानसभा चुनावों में 164 विधानसभा और 21 लोकसभा सीटों के साथ भारी बहुमत से शानदार जीत हासिल की। इस जीत ने अमरावती राजधानी शहर परियोजना में नई जान फूंक दी है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.