जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। वायुसेना के उपप्रमुख एयर मार्शल आर.के एस भदौरिया नए वायुसेना प्रमुख होंगे। वह मौजूदा वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ का स्थान लेंगे। वायुसेना प्रमुख 30 सितंबर को रिटायर होने जा रहे हैं। सरकार ने गुरुवार को इस आशय की घोषणा की। 

एयर मार्शल भदौरिया ने मई में वायुसेना का उपप्रमुख का पदभार ग्रहण किया था। रक्षा मंत्रालय के मुख्य प्रवक्ता ने ट्विटर पर कहा है, 'सरकार ने एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएम, एडीसी, वर्तमान में वायुसेना उप प्रमुख को अगला वायुसेना प्रमुख नियुक्त करने का फैसला लिया है।' 

नेशनल डिफेंस अकादमी से जुड़े रहे भदौरिया जून 1980 में वायुसेना के लड़ाकू दस्ते में शामिल हुए थे। उन्हें 'सॉर्ड ऑफ ऑनर' मिला था। वह परम विशिष्ठ सेवा पदक, अति विशिष्ठ सेवा पदक से अलंकृत हो चुके हैं। भदौरिया जल्द ही भारत को मिलने जा रहे लड़ाकू विमान राफेल भी उड़ा चुके हैं। राफेल सौदे में भी उनकी अहम भूमिका थी। 

वह 26 प्रकार के लड़ाकू और परिवहन विमानों को उड़ा चुके हैं। करीब 40 वर्षो की अपनी सेवा के दौरान भदौरिया ने जगुआर स्क्वाड्रन और एक प्रमुख वायुसैनिक अड्डे को कमांड कर चुके हैं। वह हल्के लड़ाकू विमान (एलसीए) परियोजना पर राष्ट्रीय उड़ान परीक्षण केंद्र के परियोजना निदेशक और मुख्य प्रशिक्षक पायलट रह चुके हैं।

रोचक बात यह है कि एयर मार्शल भदौरिया भी 30 सितंबर को रिटायर होने वाले थे। लेकिन अब वह वायुसेना प्रमुख पद पर नियुक्त किए गए हैं तो माना जा रहा है अगले दो साल तक वह इस पद पर रहेंगे।

भदौरिया के कार्यकाल में आएगा राफेल

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह फ्रांसीसी फर्म डसॉल्ट एविएशन द्वारा निर्मित पहला भारतीय राफेल लड़ाकू विमान लेने के लिए 8 अक्टूबर को फ्रांस जाएंगे। पहले तक खबरें थी कि ये विमान 20 सितंबर को मिलने वाले हैं। सरकारी सूत्रों का कहना है कि 8 अक्टूबर दो कारणों से महत्वपूर्ण है। दरअसल, उस दिन दशहरा और वायुसेना दिवस दोनों हैं।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप