नई दिल्ली, एजेंसी। प्रवर्तन निदेशालय ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर किया, जिसमें अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकाप्टर घोटाले के सिलसिले में ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल (Christian Michel) की जमानत की याचिका का विरोध किया गया है। ईडी ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि मिशेल से हिरासत में पूछताछ के दौरान आरोपी ने कानूनी पहुंच के समय अपने वकील को गोपनीय दस्तावेज देने की कोशिश की थी।

गवाहों और सबूतों के साथ हो सकती है छेड़छाड़

ईडी ने कहा, 'वर्तमान मामले में आगे की जांच जारी है और जांच के उद्देश्य से कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों को न्यायालयों में एकत्र करने की आवश्यकता है। इसलिए पूरी आशंका है कि वह गवाहों या सबूतों से छेड़छाड़ करने और न्यायिक प्रक्रिया में बाधा डालने की कोशिश कर सकता है।'

ईडी ने शीर्ष अदालत को बताया कि क्रिश्चियन मिशेल जेम्स ने हिरासत में पूछताछ के दौरान अपनी कंपनियों के बैंक स्टेटमेंट और समझौते और अन्य प्रासंगिक दस्तावेज उपलब्ध कराने का काम किया। ईडी ने कहा कि ट्रायल कोर्ट से अनुमति लेने के बाद नई दिल्ली के तिहाड़ जेल में भी उससे पूछताछ की गई। उस दौरान उसने अपने वकीलों की सहायता से उक्त दस्तावेज उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। लेकिन आज तक कोई जानकारी नहीं दी गई। 

क्रिश्चियन मिशेल मामले में है प्रमुख आरोपी 

मिशेल इस मामले में मुख्य आरोपी है और उस पर भारत सरकार द्वारा वीवीआईपी हेलीकाप्टरों की खरीद प्रक्रिया के संबंध में गोपनीय जानकारी प्राप्त करने के लिए मैसर्स अगस्ता वेस्टलैंड द्वारा लगाए गए बिचौलिए के रूप में पूरे मामले में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का आरोप है। 

मिशेल को मेसर्स फिनमेकेनिका, मेसर्स अगस्ता वेस्टलैंड और मेसर्स वेस्टलैंड हेलीकाप्टर यूके सहित उसकी दो फर्मों मेसर्स ग्लोबल ट्रेड एंड कामर्स लिमिटेड, लंदन और मेसर्स ग्लोबल सर्विसेज, एफजेडई के माध्यम से पांच अनुबंधों (उनमें से दो बार-बार संशोधित) की आड़ में रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा वीवीआईपी हेलीकाप्टरों की खरीद पर अवैध कमीशन/ क्रिकबैक को वैध बनाने के लिए और अनुबंध को प्रभावित करने के लिए 42 मिलियन यूरो का भुगतान किया गया था। 

ईडी ने यह भी कहा कि मिशेल की भूमिका स्पष्ट रूप से स्थापित है और उसके खिलाफ मनी लान्ड्रिंग का अपराध स्पष्ट रूप से बनता है।

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी घोटाले से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

  1. अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकाप्टर घोटाला 2013-14 में सामने आया।
  2. यह घोटाला भारत सरकार द्वारा अगस्ता वेस्टलैंड से खरीदे जाने वाले 12 हेलीकाप्टर से संबंधिति है।
  3. इस घोटाले में कई सैन्य अधिकारियों और नेताओं पर मोटी घूस लेने का आरोप है।
  4. ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल इस घोटाले का प्रमुख आरोपी है।
  5. मिशेल को 2017 में यूएई यानि संयुक्त अरब अमीरात में गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले, 18 मई को सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआइ और ईडी को नोटिस जारी कर पक्षकारों को एक महीने का सामय हलफनामा दाखिल करने के लिए दिया था।

बता दें, दिल्ली हाई कोर्ट ने अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले के आरोपी मिशेल को जमानत देने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद उसके आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। इस घोटाले की जांच ईडी और सीबीआई दोनों कर रही हैं।

Edited By: Achyut Kumar