कोच्‍ची, पीटीआइ। केरल में आशीर्वाद लेने के लिए एक चर्च के कार्यालय पहुंची तीन नाबालिग लड़कियों से 70 वर्षीय पादरी द्वारा छेड़छाड़ किए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि यह घटना एर्नाकुलम जिले के चेंदमंगलम स्थित सीरियन कैथोलिक चर्च में पिछले महीने हुई। आरोपी पादरी जॉर्ज पादयट्टी (George Padayatty) के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। आरोपी पादरी केस दर्ज किए जाने के बाद से फरार हो गया है। पुलिस शिद्दत से उसकी तलाश कर रही है। 

आरोपी पादरी के खिलाफ वड़ाक्‍केकारा थाने (Vadakkekara Police Station) में यौन अपराधों से बाल संरक्षण कानून 'पॉस्‍को एक्‍ट' (Protection of Children from Sexual Offences Act, POCSO Act) की विभिन्‍न धाराओं में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि यह घटना उस वक्‍त हुई जब नौ साल की लड़कियां चर्च में पादरी से आशीर्वाद लेने के लिए उसके ऑफ‍िस गई थीं। सिरो मालाबार चर्च के सूत्र ने बताया कि पादरी को एर्नाकुलम-अंगमाली आर्कडीओस (Ernakulam Angamaly Archdiocese) द्वारा निलंबित कर दिया गया है। यही नहीं आरोपी पादरी को पुलिस की जांच में सहयोग करने के निर्देश भी दिए गए हैं। 

इससे पहले जालंधर के पूर्व बिशप फ्रैंको मुलक्कल पर साल 2014 से 2016 के बीच एक नन का यौन शोषण करने के आरोप लगा था। 21 सितंबर 2018 को दुष्कर्म के आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया था हालांकि बाद में उन्‍हें जमानत भी मिल गई थी। केरल पुलिस ने 1,400 पन्नों का आरोपपत्र अदालत में दाखिल किया था। इसमें 83 गवाहों के नाम शामिल हैं। इन गवाहों में साइरो-मालाबार कैथोलिक चर्च के कार्डिनल, मार जॉर्ज एलेनचेरी, तीन बिशप, 11 पादरी और कई नन शामिल हैं।

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप