Move to Jagran APP

बेबुनियाद निकले ट्रूडो के आरोप! निज्जर की हत्या में भारत नहीं पाकिस्तान की ISI का हाथ, बेटे बलराज का खुलासा

Hardeep Singh Nijjar Murder कनाडा की कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में पाकिस्तान की ISI का हाथ था। निज्जर की हत्या आईएसआई के दो एजेंट राहत राव और तारिक कियानी ने यह हत्या करवाई। इन एजेंट्स ने निज्जर की हत्या क्यों की थी इसे लेकर भी कई बड़े खुलासे हुए हैं। नीचे के लेख में जानिए निज्जर से आखिर ISI को क्या दुश्मनी थी।

By Jagran NewsEdited By: Gurpreet CheemaPublished: Thu, 28 Sep 2023 07:51 PM (IST)Updated: Thu, 28 Sep 2023 07:51 PM (IST)
हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में ISI का हाथ होने का दावा

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। Hardeep Singh Nijjar Murder: कनाडा और भारत के रिश्तों में तनातनी (India Canada Row) के बीच यह बात सामने आ रही है कि भारत की छवि खराब करने के उद्देश्य से पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या की साजिश रची थी।

कनाडा की मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईएसआई के दो एजेंट राहत राव और तारिक कियानी ने यह हत्या करवाई। ड्रग्स का पूरा कारोबार राव और कियानी के कब्जे में आ जाए, इसलिए भी निज्जर की हत्या की गई।इसके पीछे का कारण यह सामने आया है कि निज्जर समय के साथ शक्तिशाली होता जा रहा था।

दावा- कनाडा के खुफिया एजेंसी के संपर्क में था निज्जर

वह स्थानीय कनाडाई समुदाय में लोकप्रियता हासिल कर रहा था। रिपोर्ट्स के मुताबिक राव, कियानी और सिख फॉर जस्टिस के आंतकी गुरपंतवत सिंह पन्नू की तिकड़ी है। ये ड्रग्स व हथियारों के कारोबार पर पूरी तरह से कब्जा करना चाहते थे। उल्लेखनीय है आतंकी निज्जर के बेटे बलराज सिंह ने दावा किया है कि उसके पिता कनाडा की सुरक्षा खुफिया सेवा (Canada Security Intelligence Service) के संपर्क में थे।

ये भी पढ़ें: हरदीप सिंह निज्जर के गांव में तनाव का माहौल, ग्रामीण बोले- आतंकी की वजह से दुनिया में हुए बदनाम

हत्या से कुछ दिन पहले सीएसआईएस के अधिकारियों से मुलाकात

हत्या से कुछ दिन पहले निज्जर ने सीएसआईएस के अधिकारियों से मुलाकात की थी। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बलराज सिंह ने दावा किया कि पिता ने फरवरी के बाद सीएसआईएस के अधिकारियों से मिलना शुरू किया था। हत्या के दो दिन बाद भी उनकी बैठक थी, लेकिन इससे पहले ही पिता का कत्ल हो गया।

बलराज ने कहा कि उनके पिता को सलाह दी गई थी वे सार्वजनिक तौर पर सबके सामने आने से बचें और गुरुद्वारा आदि ना जाएं। उधर, एजेंसियों ने सवाल उठाए हैं कि अगर कनाडा के पास भारतीय एजेंटों की योजना की जानकारी थी तो निज्जर को सुरक्षा क्यों नहीं दी गई।

ये भी पढ़ें: कनाडा में पगड़ीधारियों ने हरदीप निज्जर का ऐसे किया था कत्ल, 90 सेकंड के CCTV में सामने आई सच्चाई

निज्जर को सुरक्षा प्रदान नहीं करने के फैसले से पता चलता है कि किसी तरह से कनाडा ने भी आईएसआई का समर्थन किया और निज्जर के हत्यारों तक पहुंच प्रदान की।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.