Move to Jagran APP

IAS Success Story: सेल्फ स्टडी से दूसरे प्रयास में क्रैक किया UPSC, जानें सलोनी वर्मा की रोचक कहानी

UPSC Success Story यूपीएससी सिविल सर्विसेज एग्जाम 2020 में मूल रूप से झारखंड के जमशेदपुर की रहने वाली सलोनी वर्मा ने ऑल इंडिया रैंक-70 हासिल कर IAS बनने का गौरव हासिल किया। उनकी यह सफलता इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि वे इस एग्जाम में केवल स्व-अध्ययन की बदौलत सफल हुईं। उन्होंने सेल्फ स्टडी के माध्यम से अपने दूसरे प्रयास में ही यूपीएससी की परीक्षा क्रैक कर ली।

By Amit YadavEdited By: Amit YadavPublished: Mon, 31 Jul 2023 05:31 PM (IST)Updated: Mon, 31 Jul 2023 11:33 PM (IST)
IAS Success Story: आईएएस सलोनी वर्मा की रोचक कहानी।

IAS Success Story: यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी के लिए लाखों स्टूडेंट्स घर छोड़कर बड़े शहरों का सहारा लेते हैं, लाखों उम्मीदवार बेहतर तैयारी के साथ ही कोचिंग संस्थानों का सहारा भी लेते हैं ताकी वे IAS ऑफिसर बनने का सपना पूरा कर सकें। लेकिन इसमें से कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो सेल्फ स्टडी को महत्वपूर्ण मानते हैं और कड़ी मेहनत और लगन से बिना कोचिंग का सहारा लिए आईएएस बन जाते हैं। इसी लिस्ट में एक नाम सलोनी वर्मा का है जो सेल्फ स्टडी वालों के लिए एक मिसाल बन गयीं। सलोनी वर्मा में अपने दूसरे ही प्रयास में स्व-अध्ययन के दम पर यूपीएससी सीएसई 2020 में 70वीं रैंक हासिल कर आईएएस बनने का गौरव हासिल किया।

कौन हैं सलोनी वर्मा

सलोनी वर्मा झारखंड राज्य के जमशेदपुर की मूल निवासी हैं। उन्होंने अपनी पढ़ाई दिल्ली में रहकर पूरी की। उन्होंने दिल्ली से ही 10वीं, एवं 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद ग्रेजुएशन किया। स्नातक पास करने के तुरंत बाद ही उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी। अपने पहले प्रयास में उनको असफलता हाथ लगी लेकिन उन्होंने फिर भी महंगी कोचिंग का सहारा न लेते हुए सेल्फ स्टडी पर ही ध्यान दिया। इसके बाद उन्होंने दूसरे में ही ऑल इंडिया रैंक-70 हासिल कर अपना व अपने परिवार का नाम रोशन किया।

सिलेबस को समझकर शेड्यूल बनाकर की तैयारी

मीडिया से बातचीत के दौरान सलोनी ने बताया कि इस एग्जाम में सफल होने के लिए आपको सबसे पहले सिलेबस को समझना बेहद जरूरी है। सिलेबस के साथ ही परीक्षा की तैयारी के लिए शेड्यूल बनायें और इसी के अनुसार अपना टाइम मैनेजमेंट तय करें। इससे आपको चीजें समझने में आसानी होगी और आप बिना कोचिंग के भी अच्छी तैयारी को अंजाम दे सकते हैं।

सेल्फ स्टडी के लिए रणनीति है जरूरी

सलोनी वर्मा ने परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों को सलाह दी कि इस परीक्षा को पास करने के लिए सही रणनीति पर काम करना बेहद आवश्यक है। आपको रणनीति और तय शेड्यूल के अनुसार अध्ययन करना होगा। इसके अलावा उन्होंने बताया कि कभी भी अपने लक्ष्य से न भटकें और तैयारी के लिए लगातार रिजीजन करें और राइटिंग की प्रैक्टिस करते रहें।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.