अगर आप इंजीनियरिंग, मेडिकल या फिर सिविल सर्विसेज की फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं और आपके पास इन परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए पर्याप्त फीस नहीं है तो आपके लिए यह खबर काम की हो सकती है। दरअसल, यूपी, राजस्थान, बिहार, दिल्ली समेत अन्य राज्य सरकारें हैं, जो मेधावी छात्र-छात्राओं को इन परीक्षाओं की फ्री कोचिंग का मौका दे रही हैं। ये राज्य सरकारें यूपीएससी, आईआईटी, नीट, जेईई,एनडीए सहित अन्य परीक्षाओं की फ्री में तैयारी करवा रही हैं। राज्य सरकारों ने मेधावी छात्र-छात्राओं के सपने साकार करने के लिए अलग-अलग योजनाओं के माध्यम से मुफ्त में कोचिंग का लाभ दे रही हैं। आइए इन योजनाओं पर डालते हैं एक नजर।

उत्तर प्रदेश 

यूपी के आर्थिक रुप से कमजोर छात्रों के लिए योगी सरकार ने इस साल की शुरुआत में ही मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना (UP abhyuday yojana) की शुरुआत की थी। इस योजना के अंतर्गत राज्य के आर्थिक स्थिति कमजोर परिवार के बच्चों को मुफ्त में ऑनलाइन और ऑफलाइन कोचिंग दी जाएगी। इस योजना के तहत सरकार, संघ लोक सेवा आयोग आईएएस आईपीएस और पीसीएस ,उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग/अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से आयोजित होने वाली परीक्षाओं की तैयारी। इसके अलावा एनटीए द्वारा आयोजित जेटीई (मेंस) और नीट की परीक्षाओं के साथ-साथ एनडीए, सीडीएस, अन्य सैन्य सेवाएं, अर्धसैनिक / केंद्रीय पुलिस बल की भर्ती, पीओ/एसएससी/बीएड/टीईटी तथा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाई जाती है। ऐसे में जो भी स्टूडेंट्स इन परीक्षाओं में किसी की तैयारी करना चाहते हैं तो वे http://abhyuday.up.gov.in पर इससे संबंधित डिटेल्स चेक कर सकते हैं।

संस्कृत साहित्य में सिविल सेवा फ्री कोचिंग की सुविधा

उत्तर प्रदेश में इस योजना के अलावा आईएएस और पीसीएस परीक्षाओं के लिए उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान की ओर से भी दी जाती है। संस्थान एक नवंबर से संस्कृत साहित्य में सिविल सेवा की नि:शुल्क कोचिंग का तीसा सेशन शुरू करेगा। यूपी संस्कृत संस्थान की ओर से फ्री कोचिंग में विशेषज्ञों द्वारा संस्कृत व्याकरण, भाषा शास्त्र, दर्शन, महाकाव्य, संस्कृत नाट्य शास्त्र, संस्कृत गद्य और पद्य पढ़ाया जाता है। निशुल्क कोचिंग में ग्रेजुएशन कर चुके 21 से 35 वर्ष तक के अभ्यर्थी शामिल हो सकते हैं। हालांकि आवेदन की प्रक्रिया हाल ही में बीत चुकी है। इससे संबंधित ज्यादा ज्यादा जानकारी के लिए उम्मीदवर यूपी संस्कृत संस्थान की वेबसाइट http://upsanskritsansthanam.in/sanskr पर जाकर चेक कर सकते हैं।

राजस्थान

राजस्थान में भी आर्थिक रूप से कमजोर छात्र-छात्राओं को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की शुरुआत की थी। इसके तहत, संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा, राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा, राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड सहित अन्य प्रवेश परीक्षा की तैयारी मु्फ्त में करवाई जाती है। इस कोचिंग के लिए आवेदन की प्रक्रिया फिलहाल चल रही है। अभ्यर्थी इन कोचिंग के लिए 24 सितंबर, 2021 तक आवेदन कर सकते हैं। उम्मीदवरों को कोचिंग का लाभ पाने के लिए अपने आवेदन sso portal https://sso.rajasthan.gov.in द्वारा या SJMS SMS APP पर जाकर अप्लाई करना होगा।

दिल्ली

देश की राजधानी दिल्ली में UPSC की फ्री कोचिंग कराने के लिए जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी ने मुफ्त आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) संचालित की जाती है। इसके तहत संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा की मुफ्त तैयारी का मौका दिया जाता है। परीक्षाओं की तैयारी करानी वाली जामिया की आवासीय कोचिंग में सिर्फ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के छात्रों के साथ ही सभी वर्गों की महिला अभ्यर्थियों को ही दाखिला दिया जाता है। दाखिला प्रवेश परीक्षा की मेरिट के आधार पर होता है। हालांकि आरसीए इस वर्ष 18 सिंतबर को प्रवेश परीक्षा का आयोजन कर चुका है, जिसका परिणाम 30 सितंबर को जारी होगा। इस संबंध में ज्यादा जानकारी के लिए उम्मीदवार जामिया की वेबसाइट पर jmicoe.in जाकर विजिट कर सकते हैं। इसके अलावा जल्द ही दिल्ली में जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना के तहत संचालित होने वाली UPSC IAS , NEET और JEE मेंस की फ्री कोचिंग भी जल्द ही शुरू होने वाली है।

Edited By: Nandini Dubey