पुणे, औरंगाबाद। मौलाना आ़जाद काॅलेज के प्रोफेसर और उसके एक साथी को एक्स प्रिंसिपल से 25 लाख की फिरौती मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपी ने प्रिंसिपल को लैपटाॅप पर पाॅर्न फिल्म देखते हुए वीडियो फुटेज बनाया था, जिसे वायरल करने की धमकी देकर उसे ब्लैकमेल कर रहा था।

कुछ दिन पहले काॅलेज के प्रोफेसर इमरान उस्मान ने कम्प्यूटर आॅपरेटर की मदद से पाॅर्न देख रहे प्रिंसिपल का वीडियो फुटेज बनाया था।
प्रिंसिपल का कहना है कि गलती से पाॅर्न फिल्म चलने पर इमरान से चुपके से उसका फुटेज बनाया था, इसी फुटेज को वायरल करने की धमकी देकर इमरान और उसका साथी चिश्ती सयैद ने खान से 25 लाख की फिरौती मांगी थी। फिरौती की रकम में से खान ने आठ लाख का चेक दिया था। जिसमें से पांच लाख उसने बैंक अकाउंट से निकाले थे। बाकी की रकम के लिए भी वह उन्हें धमका रहा था। पूरी रकम न देने पर फुटेज वायरल करने की धमकी दे रहा था।
कुछ दिन बाद सोहेल खान अपने पद से मुक्त हुए इसके बाद इमरान प्रिंसिपल बने। इसके बावजूद वह उन्हें पैसों के लिए धमका रहा था।
आखिरकार सोहेल खान ने पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार के पास पहुंचे और उन्हें सारी सच्चाई बताई। उन्होंने पुलिस को मामले की जांच कर दोनों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया। इसके बाद दोनों को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया।

पढ़ें:कोलकाता को हराकर एफसी पुणे सिटी ने अपनी उम्मीदों को बरकरार रखा

Posted By: Bhupendra Singh