मुंबई, मिड-डे। Raj Kundra Case: बालीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) अश्लील फिल्में बनाने के मामले में सीबीआइ (CBI) जांच चाहते हैं। इस संबंध में उन्होंने सीबीआइ को लिखित शिकायत की है। शिकायत में उन्होंने आरोप लगाया है कि उन्हें मुंबई अपराध शाखा में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने अश्लील फिल्में बनाने के मामले में फंसाया है। उन्होंने यह भी कहा कि एक व्यवसायी (Businessman) ने प्रतिशोध की वजह से मुंबई पुलिस (Mumbai) के कुछ अधिकारियों से मिलकर इस मामले में उन्हें गिरफ्तार करवा दिया था।

राज कुंद्रा ने कहा, मूल चार्जशीट में नाम नहीं होने के बावजूद फंसाया गया

राज कुंद्रा ने सीबीआइ को अपनी शिकायत में अधिकारियों का नाम भी लिया है। साथ ही, उन्होंने इस मामले में न्याय की मांग करते हुए पत्र प्रधानमंत्री कार्यालय को भी संबोधित किया है। राज कुंद्रा ने कहा कि उनका किसी भी अश्लील फिल्म बनाने व किसी भी आरोपित से कोई लेना-देना नहीं है। कुंद्रा के शिकायत पत्र में मुंबई अपराध शाखा के कुछ अधिकारियों के खिलाफ गंभीर आरोप हैं। कहा गया कि इस मामले में दायरमूल चार्जशीट में उनका नाम नहीं होने के बावजूद पुलिस ने उन्हें मामले में फंसाने के लिए सब कुछ किया। कुंद्रा ने यह भी कहा कि इस मामले के प्रत्येक गवाह पर उसके खिलाफ गवाही देने के लिए दबाव डाला गया था। सूत्रों ने बताया कि कुंद्रा ने अपनी शिकायत में सीबीआइ से कहा कि वह ऐसे कई गवाहों का विवरण साझा कर सकते हैं, जो इसकी गवाही देंगे।

व्यवसायी ने व्यक्तिगत प्रतिशोध में फंसाया

शिकायत पत्र के अनुसार, जिस व्यवसायी की ओर से कुंद्रा को कथित रूप से फंसाया गया था, उसके खिलाफ उनका व्यक्तिगत प्रतिशोध है। वह इन पुलिस वालों के साथ घनिष्ठ संबंध रखता है। सीबीआइ विभाग के एक सूत्र ने कहा कि कुंद्रा के शिकायत पत्र लिखा कि मैं एक साल तक चुुप रहा। मैं अदालतों से न्याय चाहता हूं। मैं इन अधिकारियों के खिलाफ जांच का अनुरोध करता हूं। कुंद्रा को 19 जुलाई को उनके कर्मचारी रेयान थोर्प के साथ अश्लील फिल्म रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। कुंद्रा ने दो महीने से अधिक समय अंदर बिताया और उन्हें पिछले साल 19 सितंबर को किला अदालत ने जमानत पर रिहा कर दिया।

मैं निर्दोष हूंः राज कुंद्रा

हाल ही में राज कुंद्रा ने किला अदालत के समक्ष एक आवेदन दायर किया और दावा किया कि वह निर्दोष हैं। अश्लील फिल्में या अश्लील सामग्री की शूटिंग से उनका कोई लेना-देना नहीं है। राज कुंद्रा के खिलाफ पूरे पूरक आरोप पत्र में एक भी आरोप नहीं है कि वह किसी भी वीडियो शूटिंग या अश्लील सामग्री वाले वीडियो बनाने में सक्रिय रूप से शामिल था। मुंबई क्राइम ब्रांच ने भी कोर्ट के समक्ष अपना जवाब दाखिल करते हुए उसको बरी करने की अर्जी का विरोध करते हुए कहा कि उसके खिलाफ पर्याप्त सामग्री है। मामले की अंतिम सुनवाई चार नवंबर को होनी है।

जानें, क्या है मामला

चार फरवरी को मुंबई क्राइम ब्रांच की संपत्ति प्रकोष्ठ ने मालवानी के एक बंगले पर छापेमारी की। यहां कथित तौर पर पीड़ित लड़कियों को जबरदस्ती और धमकाकर अश्लील फिल्म की शूटिंग की जा रही थी। पुलिस ने मौके से पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया और बाद में मामले में नौ को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने नौ आरोपितों के खिलाफ तीन अप्रैल को फोर्ट चार्जशीट दाखिल की थी। जुलाई में कुंद्रा और उनके कर्मचारी थोर्प को गिरफ्तार किया गया था और पूरक चार्जशीट में अपराध शाखा ने दो फरार आरोपितों को दिखाया है, कुंद्रा के बहनोई प्रदीप बख्शी वर्तमान में लंदन में रहते हैं और एक अन्य आरोपित यश ठाकुर जो सिंगापुर में है।

यह भी पढ़ेंः Raj Kundra के पास पुलिस को मिले 119 अश्लील वीडियो, इतने करोड़ में बेचने की थी प्लानिंग

Edited By: Sachin Kumar Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट