मुंबई, जेएनएन। Mumbai Rains मायानगरी मुंबई बीते कई दिनों से फिर पानी-पानी हो गयी है। मौसम विभाग के अनुसार मुंबई मे अगले दो दिन फिर भारी बारिश होने की संभावना है। महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में लगातार पांच दिन से हो रही बारिश के कारण भामरागढ़ के कई हिस्से पानी में पूरी तरह डूब गये हैं। 

गौरतलब है कि मौसम विभाग ने शनिवार को मुंबई और आसपास के इलाकों में रविवार और सोमवार को भारी बारिश होने  की संभावना जताई है। शनिवार सुबह शहर के लिए कोलाबा वेधशाला तक पिछले 24 घंटे से हो रही बारिश 70 मिमी दर्ज की गई है, जो सांता क्रूज़ केंद्र द्वारा दर्ज की गई बारिश की मात्रा की तुलना में अधिक है।

 

आईएमडी के चीफ पीआरओ विशंभर सिंह ने कहा, अगले दो दिनों तक शहर और उसके आसपास के इलाकों में भारी से बहुत अधिक बारिश होने की संभावना है। आईएमडी ने इस अवधि के लिए बादल छाए रहने की भविष्यवाणी की है। इस बीच, शनिवार को मध्य रेलवे (सीआर) और पश्चिम रेलवे (डब्ल्यूआर) की मुख्य और पश्चिमी लाइनों पर समय पर ट्रेनें नहीं चलीं।

 डब्ल्यूआर चीफ पीआरओ, रवींद्र भाकर ने कहा, चर्चगेट और धानू स्टेशनों के बीच चलने वाली ट्रेनें समय पर थी। साथ ही ओवरहेड तार के टूटने की कोई शिकायत नहीं मिली है। सीआर के सूत्रों ने बताया कि ट्रेनें सामान्य रूप से चल रही हैं। बुधवार को, कुछ ही समय में बहुत भारी बारिश के कारण मुख्य, हार्बर लाइनों और पश्चिमी लाइन सहित सीआर की सेवाओं बाधित रही।

Maharashtra Assembly Elections 2019: एनसीपी को बड़ा झटका, गणेश नाईक का भाजपा में शामिल होना तय

Maharashtra: पालघर में हादसा, निर्माणाधीन इमारत का स्लैब गिरा; एक की मौत

जलमग्न हुई मुंबई की सड़कें

मुंबई में पिछले दिनों औसतन 100 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। जबकि बुधवार सुबह से दोपहर बाद ढाई बजे तक मौसम विभाग के सांताक्रूज क्षेत्र ने 206 मिलीमीटर बरसात रिकॉर्ड की है। दोपहर बाद करीब तीन बजे समुद्र में 4.18 मीटर से अधिक का ज्वार आने के कारण जलभराव की स्थिति और विकट हो गई। जिसके कारण मुंबई के सायन, माटुंगा, कुर्ला, भांडुप, अंधेरी, जोगेश्वरी के निचले इलाकों में सड़कों पर दो फुट से ज्यादा पानी भर गया। पूर्वी एवं पश्चिमी महामार्ग सहित जोगेश्वरी-विक्रोली लिंक रोड पर लंबे-लंबे ट्रैफिक जाम लगे रहे। रेल पटरियों पर पानी भर जाने के कारण पश्चिम रेलवे, मध्य रेलवे और हार्बर रेलवे की लोकल ट्रेन सेवाएं तो दिन भर बाधित रही हीं, लंबी दूरी की गाडिय़ों को भी रोकना पड़ा। सायन और कुर्ला के बीच लोकल ट्रेन में फंसे यात्रियों को रैंप लगाकर ट्रेन से बार निकालना पड़ा। 

 नालासोपारा में एक छह वर्षीय बच्चे की गटर में डूबने से मौत

अब लीज पर दिये जाएंगे किले, जानिये क्या है महाराष्ट्र सरकार का नया प्लान

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप