Move to Jagran APP

Maharashtra: विरोध प्रदर्शन के बीच किसान प्रतिनिधियों से आज मुलाकात करेंगे सीएम शिंदे और फडणवीस

महाराष्ट्र में किसान प्रतिनिधिमंडल अपनी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर विरोध प्रर्दशन पर उतरे हुए हैं। उनके प्रर्दशन के बीच मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस गुरुवार को मंत्रालय में दोपहर 3 बजे प्रदर्शनकारी किसानों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे। (फोटो- एएनआई)

By Preeti GuptaEdited By: Preeti GuptaThu, 16 Mar 2023 08:05 AM (IST)
विरोध प्रदर्शन के बीच किसान प्रतिनिधियों से आज मुलाकात करेंगे सीएम शिंदे और फडणवीस

मुंबई, एएनआई। महाराष्ट्र में किसान प्रतिनिधिमंडल अपनी 14 सूत्रीय मांगों को लेकर विरोध प्रर्दशन पर उतरे हुए हैं। उनके प्रर्दशन के बीच राज्य के मंत्री दादा भुसे और अतुल सावे ने किसानों से मुलाकात की है। इसके बाद उन्होंने बताया कि किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस गुरुवार को मंत्रालय में दोपहर 3 बजे प्रदर्शनकारी किसानों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे।

नासिक से मुंबई तक किसानों ने निकाला पैदल मार्च

अपनी समस्याओं और दुर्दशा की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिए अखिल भारतीय किसान सभा और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व में चल रहे किसान मार्च निकाला जा रहा है। उन्होंने सरकार के आगे अपनी मांगों को रखने के लिए नासिक से मुंबई तक लंबा पैदल मार्च निकाला। दादा भुसे ने किसानों से मुलाकात के बाद बताया कि हमने किसानों के द्वारा बताए गए सभी 14 मुद्दों पर चर्चा की है। हमने उनकी स्थिति को स्वीकार किया और उनकी कई मांगों पर सहमति जताई।

सीएम शिदें और फडणवीस किसानों से करेंगे मुलाकात

दादा भुसे ने कहा कि हम किसानों की मांगों को लेकर विस्तृत चर्चा करेंगे। इसलिए हमने सीपीआई और प्रदर्शनकारी किसानों से मंत्रालय में सीएम और डिप्टी सीएम से मिलने का अनुरोध किया। वे कल मंत्रालय में दोपहर 3 बजे मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से मिलने के लिए तैयार हो गए हैं। तो वहीं किसानों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के बाद राज्य के मंत्री अतुल सावे ने दावा किया कि किसानों के 40-50 फीसदी मुद्दों का समाधान कर लिया गया है।

40-50 प्रतिशत मुद्दे हुए हल- अतुल सावे

प्रदर्शनकारी किसानों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के बाद अतुल सावे ने कहा कि किसानों द्वारा उठाए गए सभी मुद्दों पर चर्चा की गई। उनके 40-50 प्रतिशत मुद्दों को हल कर लिया गया है और बाकी को कल सीएम, डिप्टी सीएम से मिलने के बाद हल किया जाएगा। बता दें कि 14 मार्च को मुंबई पहुंचने के बाद, किसानों ने अपनी समस्याओं को उजागर करने के लिए आजाद मैदान में प्रदर्शन शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें- 1971 के बाद से देश के उत्तरी हिस्सों में शीतलहर की स्थिति में आई कमी, जितेंद्र सिंह ने लोकसभा को दी जानकारी

क्या है किसानों की मांग

गौरतलब है कि राज्य में हजारों की संख्या में किसानों और आदिवासियों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर नासिक से मुंबई के लिए मार्च की शुरुआत की थी। अपनी प्रमुख मांगों में उन्होंने प्याज उत्पादकों को को 600 रुपए प्रति क्विंटल की तत्काल वित्तीय राहत, 12 घंटे के लिए निर्बाध बिजली आपूर्ति, कृषि ऋण में माफी और बिजली बिल माफ करने जैसी प्रमुख मांगें की है। इसके अलावा किसानों ने सोयाबीन, कपास और अरहर की कीमतों में गिरावट को रोकने और बेमौसम बारिश और अन्य प्राकृतिक आपदाओं से प्रभाविक किसानों को तत्काल राहत देने के मुद्दों को भी उठाया है।

यह भी पढ़ें- PM Modi ने AIIMS Delhi के डॉक्टरों को दी बधाई, गर्भ में पल रहे भ्रूण के दिल की 90 सेकेंड में हुई सर्जरी