सिंगरौली, जागरण आनलाइन डेस्‍क। मध्‍य प्रदेश के सिंगरौली जयंत मार्ग से ट्रक चालकों द्वारा एक पुलिसकर्मी से मारपीट का मामला सामने आया है। घटना मंगलवार शाम की बतायी जा रही हैं यहां ड्यूटी के दौरान जाम खुलने को लेकर हुए विवाद में ट्रक चालकों ने पुलिसकर्मी की पिटाई कर दी।

सिंगरौली जयंत मार्ग पर उस समय लंबा जाम लगा हुआ था। मोरवा पुलिस कर्मी रोज की तरह जाम खुलवाने के लिए वहां पहुंचे थे। इस दौरान दो पुलिसकर्मियों के बीच हुई कहासुनी में पुलिसकर्मी की पिटाई हो गई। घटना के बाद मोरवा पुलिस ने ट्रक चालकों के विरुद्ध मामला दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

जाम खुलवाने गए थे पुलिसकर्मी 

मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार रात करीब साढ़े आठ बजे चुनाव ड्यूटी खत्म कर लौट रही मोरवा पुलिस को सूचना मिली थी कि सिंगरौली जयंत मार्ग पर जाम है।

मोरवा निरीक्षक मनीष त्रिपाठी के निर्देश पर पुलिस बल जाम खोलने गया था, मोरवा थाने के सहायक उप निरीक्षक अरविंद चतुर्वेदी लोगों को एक किलोमीटर लंबे जाम से निजात दिलाने के लिए आगे बढ़ रहे थे, वहीं अन्य पुलिसकर्मी वाहनों को हटाने में जुटे थे।

बताया जाता है कि एएसआइ अरविंद चतुर्वेदी ने कोल हब कंपनी के चालकों को अनियंत्रित खड़े ट्रेलर को हटाने का निर्देश दिया। जिस पर एसआई की ट्रेलर चालक सोहेब और शब्बीर से बहस हो गई और दोनों नशे में धुत चालकों ने एसआइ पर हमला कर दिया।

दोनों चालकों के खिलाफ मामला दर्ज   

घटना के बाद अन्य राहगीरों और पुलिसकर्मियों ने बीच बचाव किया, जिसके बाद दोनों आरोपी चालक मौके से फरार हो गए। इस घटना के बाद आला अधिकारियों ने मामले का संज्ञान लिया और दोनों आरोपित चालकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया, जिसमें से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि अन्य की तलाश की जा रही है।

कोल हब मालिक अमित तिवारी ने कहा कि दोनों ड्राइवर सोहेब और शब्बीर छत्तीसगढ़ के पटघोरा के रहने वाले थे, जिसके बारे में उन्हें कोई खास जानकारी नहीं है। घटना के बाद उन्होंने दोनों चालकों को हटा दिया।

यह भी पढ़ें-

मप्र के रीवा में शिक्षक ने 8वीं कक्षा के छात्र को बेरहमी से पीटा, गला दबाया; बरसाये थप्‍पड़

World Heart Day 2022: महिलाओं को दिल का दौरा पड़ने की संभावना कम, पुरुषों के मुकाबले 10 साल बाद होता है हृदय रोग

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट