भोपाल, जागरण नेटवर्क। मध्य प्रदेश के शहडोल जिला स्थित माध्यमिक स्कूल में एक शिक्षक ने आदिवासी मूल की छात्रा के कपड़े उतरवा दिए। इतना ही नहीं छात्रा दो घंटे तक अर्द्धनग्न ही बैठी रही। इसके बाद शिक्षक ने खुद को स्वच्छता मित्र बताते हुए स्कूल में छात्रा के कपड़े धुलते हुए फोटो भी विभागीय ग्रुप में शेयर की, जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। अब इंटरनेट पर यह फोटो वायरल हो रही है। बताया जा रहा है कि आरोपित शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है।

स्कूल में छात्रा के कपड़े उतरवाए

जानकारी के मुताबिक, शहडोल के जयसिंहनगर विकासखंड के जन शिक्षा केन्द्र पोड़ी अंतर्गत शासकीय प्राथमिक स्कूल बरा टोला ग्राम धनेड़ में एक शिक्षक ने 5वीं कक्षा की 10 वर्षीय छात्रा के कपड़े गंदे बताकर उतरवा दिए। फिर स्वच्छता की बात कहकर स्कूल परिसर में छात्रा को अन्य बच्चों के बीच खड़ा कर दिया और खुद ही ड्रेस धुलने लगा। दो घंटे बाद जब ड्रेस सूख गई तो छात्रा को कपड़े पहनाकर पढ़ने के लिए कक्षा में भेजा। कपड़े सूखने तक छात्रा को अंडरगार्मेंट्स में बैठना पड़ा।

घटना को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश

उधर, ग्रामीणों ने इस घटना को लेकर नाराजगी जताई है। ग्रामीणों से इसे शिक्षक की गलत हरकत बताते हुए जांच और कार्रवाई करने की मांग की है। दूसरी तरफ आरोपित शिक्षक ने कहा कि उसने कोई गलत काम नहीं किया है। स्वच्छता का संदेश दिया है, चाहे तो जांच करा लें। मामले को लेकर बीइओ नीलम सिंह का कहना है कि इस संबंध में जानकारी नहीं है, शिक्षक ने ऐसा किया है तो उसकी जांच की जाएगी और कार्यवाही भी होगी।

यह भी पढ़ें- Indore News: 7 साल की मासूम को 33 बार चाकू मारने वाले का कबूलनामा, कहा- दुष्कर्म करना था लेकिन लोगों ने देख लिया

शिक्षक को किया गया निलंबित

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, मामले को लेकर मध्य प्रदेश आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक आयुक्त आनंद राय सिन्हा ने बताया कि घटना की तस्वीरों के बारे में पता चलने के बाद शिक्षक को शनिवार को निलंबित कर दिया गया है। 

यह भी पढ़ें- MP News: CM शिवराज के तेवर देख अधिकारियों के छुटे पसीने, आलीराजपुर में बोले- बेईमानी की तो नौकरी करने लायक नहीं छोड़ूंगा

Edited By: Aditi Choudhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट