नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। घूमने के शौकीन पर्यटकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है कि लंबे समय अंतराल के बाद महोब्बत की निशानी ताजमहल को 21 सितंबर से खोल दिया जाएगा। इसके लिए तैयारी जोर शोर से चल रही है। इससे पहले कोरोना वायरस के चलते 17 मार्च को ताजमहल को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। उस समय से पर्यटकों के ताजमहल में प्रवेश पर पाबंदी है, लेकिन अब 21 सितंबर से पर्यटक ताजमहल का दीदार कर सकते हैं। इसके लिए गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। साथ ही पर्यटकों को नई गाइडलाइंस का पालन करना होगा। आइए जानते हैं कि ताजमहल दीदार के लिए नए नियम क्या हैं-

-एक दिन में केवल 5 हजार पर्टयकों को ताजमहल परिसर में प्रवेश की अनुमति होगी। इसमें लंच से पहले 2500 पर्यटकों को ताजमहल परिसर में जाने दिया जाएगा। जबकि 2500 पर्यटक सेकंड हाफ में लंच के बाद ताजमहल का दीदार कर सकेंगे। हालांकि, आगरा किले में एक दिन में केवल 2500 लोगों को जाने की अनुमति दी जाएगी।  सुबह में 1300 और शाम में 1200 पर्यटक इस किले का दीदार कर सकेंगे।

 -ताजमहल परिसर के भीतर अनुमति प्राप्त सभी लाइसेंस प्राप्त फोटोग्राफरों को ताजमहल खुलने के बाद उस समय प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। इनके लिए अलग से समय सारणी बनाई जाएगी। उसी आधार पर ही उन्हें प्रवेश की अनुमति होगी।

-पर्यटक एसआई फोन ऐप के जरिए ऑनलाइन टिकट खरीद सकते हैं। टिकट मोबाइल पर दिया जाएगा। जबकि दूसरे सेशन का टिकट दूसरे सेशन में बेचा जाएगा।

-ताजमहल शुक्रवार और रविवार को बंद रहेगा। जबकि आगरा किला रविवार को बंद रहेगा। इस दिन पर्यटक ताजमहल का दीदार नहीं कर पाएंगे।

-ताजमहल परिसर में प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था होगी। पर्यटकों को इस जगह सैनिटाइज़ किया जाएगा। जबकि ताजमहल परिसर में पर्टयकों को शारीरिक दूरी का ख्याल रखना पड़ेगा।

-ताजमहल परिसर को गृह मंत्रालय के आदेशानुसार, समय-समय पर सैनिटाइज़ किया जाएगा। इस दौरान आम लोगों के प्रवेश पर पाबंदी होगी। ऐसी संभावना है कि अवकाश के दिन ताजमहल और उसके परिसर को सैनिटाइज़ किया जाएगा।

-पर्यटकों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है। अगर कोई बिना मास्क के आता है, तो उसे ताजमहल परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस