दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Touching Feet Benefits: सनातन धर्म में हम उम्र के व्यक्ति को हाथ जोड़कर नमस्कार किया जाता है। वहीं, अपने से बड़े व्यक्ति को पैर छूकर प्रणाम किया जाता है। यह परंपरा दैविक काल से चली आ रही है। जब कभी घर में कोई मेहमान आता है, तो घर के सभी बच्चे पैर छूकर उन्हें प्रणाम करते हैं और उनसे आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। मेहमान भी अपने से बड़े लोगों के पैर छूकर आशीर्वाद लेते हैं। बाल्यावस्था से ही बच्चों को यह गुण सिखाया जाता है। कोरोना काल में ऐसा देखा गया। जब संक्रमण का खतरा बढ़ रहा था, तो पूरी दुनिया ने भारतीय शैली में नमस्कार करने की विधि को अपनाया था। वर्तमान समय में भी लोग हाथ जोड़ कर एक दूसरे को नमस्कार करते हैं। जानकारों की मानें तो बड़े बुजुर्गों के पैर छूकर प्रणाम करने से न केवल उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है, बल्कि कमर और पीठ दर्द में भी आराम मिलता है। वहीं, ऋषि मुनियों की मानें तो पिताजी, दादाजी, शिक्षक और बड़े बुजुर्गों के चरण स्पर्श करने से उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है। साथ ही व्यक्ति को बल, बुद्धि, विद्या, सुख और समृद्धि की प्राप्ति होती है। हालांकि, वर्तमान समय में ऐसा कहा जाता है कि चरण स्पर्श करने से व्यक्ति की आयु बढ़ती है और भाग्य में वृद्धि होती है। आइए, चरणस्पर्श के फायदे जानते हैं-

-अगर आप लंबे समय से कमर और पीठ दर्द की समस्या से परेशान हैं, तो रोजाना सुबह में अपने माता पिता को पैर छूकर प्रणाम करें। आसान शब्दों में कहें तो चरण स्पर्श करें। ऐसा कहा जाता है कि साष्टांग प्रणाम करने से कमर और पीठ दर्द में बहुत जल्द आराम मिलता है। इस दौरान शरीर में झुकाव पैदा होता है। साथ ही शरीर में रक्त संचार सही से होता है। शास्त्रों की माने तो रोजाना माता पिता के चरण स्पर्श करने से व्यक्ति के जीवन में सुख शांति और समृद्धि का आगमन होता है।

-हेल्थ एक्सपर्ट्स की माने तो बड़े-बुजुर्गों के चरण स्पर्श करने से कमर के ऊपरी भाग में रक्त संचार सही से होता है। इससे त्वचा और बालों की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है। इसके लिए रोजाना सुबह में माता पिता के पैर छूकर आशीर्वाद अवश्य प्राप्त करें। योग में चरणस्पर्श को साष्टांग प्रणाम कहा गया है। यह एक एक्सरसाइज है जो सूर्य नमस्कार के समय किया जाता है। इसके अलावा, एक्सरसाइज करने से पहले वार्म अप करने के दौरान भी लोग अपने दोनों हाथों से चरण को छूने की कोशिश करते हैं। इससे कमर दर्द में बहुत जल्द आराम मिलता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Edited By: Pravin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट