Move to Jagran APP

World Music Day 2023: शराब और जंक फूड की तरह संगीत की भी लगती है लत, जानें कैसे पा सकते हैं काबू

World Music Day 2023 संगीत एक ऐसी कला है जिसे समझने के लिए भाषा को समझना जरूरी नहीं है। ऐसे कई गाने हैं जिनका मतलब भले ही समझ न आए लेकिन संगीत हमारे दिल को छू जाता है। संगीत सुनने से अचानक हमारी सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं। आज विश्व संगीत दिवस के मौके पर आइए जानते हैं कि म्यूजिक की लत किन्हें लग सकती है और इसके क्या उपाय हैं।

By Ruhee ParvezEdited By: Ruhee ParvezWed, 21 Jun 2023 01:12 PM (IST)
World Music Day 2023: क्या संगीत की लत लगना मुमकिन है

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। World Music Day 2023: आप चाहे ड्राइव कर रहे हों, वर्कआउट कर रहे हों या फिर घर की साफ-सफाई ही क्यों न कर रहे हों, इस तरह की एक्टिविटीज के दौरान हम सभी गाना सुनना पसंद करते हैं। संगीत एक ऐसी चीज है, जो आपकी परेशानियों को भुलाने में मदद करता है और आप सुकून महसूस करते हैं। कुछ समय पहले संगीत को लेकर एक स्टडी की गई, ताकि दिमाग और म्यूजिक के बीच के इस अनोखे संबंध को समझा जा सके। मैकगिल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि जंक फूड, पैसों और यहां तक कि शराब की तरह म्यूजिक की भी लत सकती है।

वैज्ञानिकों ने इस शोध के बारे में समझाते हुए बताया कि एक अच्छी ट्यून हमारे ब्रेन के न्यूक्लियस अकम्बेन्स नाम के हिस्से को ट्रिगर करती है। स्कैन्स का उपयोग कर शोधकर्ताओं ने देखा कि गाना सुनते वक्त न्यूरॉन्स बढ़ते हैं और वहीं गाना बंद कर देने से प्लेज़र कम हो जाता है।

एक्सपर्ट्स का मानना है कि संगीत हमारे जीवन का अहम हिस्सा है। यह तनाव दूर कर किसी का भी मूड ठीक कर सकता है। कुछ ऐसे म्यूजिक भी हैं, जो नींद को बेहतर बनाते हैं। साथ ही संगीत लोगों को जोड़ने का काम भी करता है, लेकिन तब भी लंबे समय और लगातार संगीत सुनने की आदत चिंताजनक भी है। अगर कोई हर वक्त गाने सुनना पसंद करता है, तो इसका मतलब है कि उसे इसकी लत लग चुकी है।

कैसे लगती है संगीत की लत?

जरूरत से ज्यादा संगीत सुनना

अगर हम सारे काम छोड़कर, अपनी सेहत को इग्नोर कर संगीत की ओर झुके हुए हैं, तो इसका मतलब हमारी जिंदगी में म्यूजिक जरूरत से ज्यादा है। कई लोग ऑफिस के काम की फिक्र छोड़ म्यूजिक सुनने को अहमियत देते हैं, जो गलत है।

लगातार गाना गुनगुनाना

अक्सर लोग नहाते वक्त या फिर कुकिंग करते वक्त या इसी तरह की एक्टिविटीज के दौरान गाने गुनगुनाते हैं, जो एक आम बात है। लेकिन कई बार लोग तनाव या अवसाद के चलते एक ही गाने को हजारों बार सुन लेते हैं। कई दफा गाने की एक ही लाइन को कई बार सुनते हैं। मेडिकल दुनिया में इसे एक तरह का मेनिया माना जाता है।

नशा करना

संगीत का नशा कई मामलों में शराब और भांग के नशे से भी संबंधित हो सकता है। नशे में कई बार व्यक्ति एक ही काम को दोहराता रहता है, जिसका प्रभाव अधिक हानिकारक हो सकता है।

संगीत की लत को न करें नजरअंदाज

अगर संगीत सुनने की आदत आपके काम और स्वास्थ्य को प्रभावित कर रही है और इस आदत से छुटकारा पाना मुश्किल हो रहा है, तो आप थेरेपिस्ट से मदद ले सकते हैं। एक एक्सपर्ट आपके स्वभाव की जांच करेगा और हेल्दी तरीके से इस लत को कम करने का तरीका बताएगा। अगर संगीत आपको बेचैन कर रहा है और इसकी वजह से आप अपने करीबियों से दूर हो रहे हैं, तो आपको इसका समाधान जरूर ढूंढ़ना चाहिए।

Disclaimer: लेख में उल्लेखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Picture Courtesy: Freepik/Pexel