Move to Jagran APP

दिल को भी झुलसा सकती है चिलचिलाती धूप, एक्सपर्ट से जानें Heatwave और Heart Attack का कनेक्शन

तपती धूप और चिलचिलाती गर्मी (Summer Season) की वजह से हमारी सेहत काफी प्रभावित होती है। इसकी वजह से सिर्फ हमारी त्वचा ही नहीं बल्कि दिल भी प्रभावित होता है। सर्दियों की ही तरह गर्मियों में भी हार्ट अटैक का खतरा बना रहता है। हालांकि इसके बारे में कम लोगों को भी जानकारी होती है। ऐसे में एक्सपर्ट बता रहे हैं Heatwave और Heart Attack का कनेक्शन

By Harshita Saxena Edited By: Harshita Saxena Fri, 12 Apr 2024 06:56 PM (IST)
एक्सपर्ट से जानें क्या है हीटवेव और हार्ट अटैक का कनेक्शन

लाइफस्टाइल डेस्क, नई दिल्ली। चुभती-जलती गर्मी का मौसम (Summer Season) आ चुका है और चिलचिलाती धूप से अभी से लोगों का हाल बेहाल कर दिया है। लगातार बढ़ते पारे की वजह से लोगों के पसीने छूटने लगे हैं। खुद भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अप्रैल से जून तक भीषण गर्मी पड़ने की चेतावनी दी है। गर्मियों के दौरान अकसर हीटवेव (Heat wave) की वजह से लोग कई समस्याओं का शिकार हो जाते हैं।

तेज गर्मी का असर सिर्फ हमारे शरीर पर ही नहीं, बल्कि दिल (Heart Disease) पर भी पड़ता है। ऐसे में गर्मी और दिल के बीच कनेक्शन जानने के लिए हमने नोएडा के कार्डियक कैथ लैब के ग्रुप डायरेक्टर और मेट्रो ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल्स में सीनियर इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. समीर गुप्ता से बातचीत-

यह भी पढ़ें-  Heart Disease का संकेत हो सकते हैं सीने में होने वाले ये 5 तरह के दर्द, भारी पड़ सकती है इनकी अनदेखी

क्या है हीटवेव और दिल में कनेक्शन?

हीटवेव और दिल के बीच का कनेक्शन बताते हुए डॉक्टर कहते हैं कि हीटवेव उच्च तापमान की वजह से कार्डियोवेस्कुलर सिस्टम पर एक्स्ट्रा दबाव डालती हैं, जिससे दिल के दौरे के खतरे का खतरा बढ़ सकता है। लंबे समय तक हाई टेम्परेचर के संपर्क में रहने से शरीर को अपने अंदर के तापमान को नियंत्रित करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है, जिससे हार्ट रेट बढ़ जाता है और गर्मी को खत्म करने के लिए त्वचा में ब्लड फ्लो बढ़ जाता है।

किन लोगों को ज्यादा खतरा?

इसकी वजह से वृद्ध लोगों या पहले से किसी बीमारी का शिकार या पहले से हार्ट प्रॉब्लम से जूझ रहे लोगों के हार्ट पर एक्स्ट्रा दबाव पड़ता है। इसके अलावा डिहाइड्रेशन, जो हीटवेव के दौरान काफी आम मानी जाती है, खून को गाढ़ा कर देता है, जो दिल के लिए खून को पंप करना ज्यादा कठिन बना देता है, जिससे दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ जाता है।

ऐसे रखें गर्मियों में दिल का ख्याल

डॉक्टर आगे बताते हैं कि हीटवेव दिल के दौरे के अन्य जोखिम कारकों जैसे हाई ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को भी बदतर बना सकती हैं। ऐसे में डॉक्टर से गर्मियों के दौरान दिल को सुरक्षित रखने के कुछ तरीके भी सुझाए, तो निम्न हैं-

  • दिल से जुड़ी समस्याओं के जोखिम को कम करने के लिए हाइड्रेटेड रहना चाहिए, ठंडा रहना चाहिए और हीटवेव के दौरान ज्यादा मेहनत करने से बचना चाहिए।
  • जब तापमान कम हो तो सुबह जल्दी या देर शाम को वर्कआउट करें और दिन के सबसे गर्म समय के दौरान बाहरी गतिविधियों को करने से बचें।
  • हेल्दी हार्ट के लिए अपनी डाइट में पोषक तत्वों से भरपूर फलों, सब्जियों, साबुत अनाज और लीन प्रोटीन को शामिल करें।
  • खूब पानी और इलेक्ट्रोलाइट युक्त लिक्विड पीने से आपको हाइड्रेटेड रहने और पर्याप्त ब्लड वॉल्यूम और सर्कुलेशन बनाए रखने में मदद मिल सकती है, जो पूरी गर्मियों में आपके दिल को स्वस्थ रखेगा।
  • खुद को धूप से बचाने और बहुत तेज गर्मी से बचने के लिए टोपी, सनस्क्रीन और हल्के, हवादार कपड़े पहनें।
  • अपने शरीर पर ध्यान दें और जरूरत पड़ने पर आराम करें ताकि ज्यादा कार्य करने से बचा जा सके और गर्मी से जुड़ी समस्याओं के विकसित होने की संभावना कम किया जा सके, जो आपके दिल पर दबाव डाल सकते हैं।

यह भी पढ़ें-  कम उम्र में नहीं बनना चाहते Diabetes और Heart Disease का शिकार, तो एक्सपर्ट से जानें कैसे करें बचाव

Picture Courtesy: Freepik