नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Benefits Of Halasana: स्वस्थ रहने का सबसे सरल और सटीक उपाय योग है। इसे करने से न केवल आप स्वस्थ और सुखी रहतें हैं बल्कि आपकी इम्युनिटी सिस्टम भी मजबूत होती है। इससे जीवन में अनुशासन भी आता है। इसलिए योग हमारे लिए महत्वपूर्ण है। अगर आप किसी प्रकार की बीमारी से जूझ रहे हैं तो ऐसी परिस्थिति में रोग के अनुसार योग के विभिन्न आसनों को करने से बीमारी से निजात मिलता है। ऐसे में आज हम योग के आसन हलासन क्या है, कैसे करना चाहिए, और इसके क्या फायदे हैं, इस बारे में बताने जा रहे हैं, आइए जानते हैं।

हलासन क्या है?

हलासन हिंदी के दो शब्द 'हल' और 'आसन' से मिलकर बना है। हल अर्थात ज़मीन को खोदने वाला कृषि यंत्र और आसन बैठने की मुद्रा। इस योग को करने में शरीर की मुद्रा हल की तरह होता है। जिसे अंग्रेजी में ‘प्लो पोज’ कहते हैं। इस योग के कई फायदे हैं। इससे वजन कम होता है, शरीर को मजबूती मिलती है। इसके साथ ही कई फायदें हैं जो विस्तार से आगे बताया गया है।  

हलासन करने का तरीका

इसके लिए सबसे पहले स्वच्छ वातावरण और समतल स्थान पर मैट अथवा दरी बिछा लें। अब इस पर पीठ के बल लेट जाएं और अपने दोनों हाथों को मैट पर रखें। अब धीरे धीरे अपने पैरों को एक सीध में ऊपर उठाएं और फिर कमर के सहारे अपने सिर के पीछे ले जाएं। इसे तब तक सिर के पीछे ले जाएं। जब तक आपके पैर ज़मीन को न छू लें। अब अपनी क्षमता के अनुसार इस मुद्रा में रहें और फिर अपनी नार्मल पोजीशन में आ जाएं। इस योग को रोजाना 5 बार जरूर करें। आइए हलासन के फायदे जानते हैं।

पाचन क्रिया

इस योग को करने से कब्ज, बदहज़मी और पेट संबंधी सभी प्रकार की बीमारियों से छुटकारा मिलता है। साथ ही पाचन क्रिया भी मजबूत होती है।

 वजन कम करता है

अगर आप अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं तो अपने वजन को कम करने के लिए रोजाना हलासन जरूर करें। एक शोध के परिणाम अनुसार हलासन मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और फैट को रिड्यूस करता है।

अनिद्रा में फायदेमंद

जिन लोगों को अनिद्रा की शिकायत है, उनके लिए हलासन रामबाण औषधि है। इसे करने से अनिद्रा और तनाव दोनों दूर होता है। अतः रोजाना हलासन जरूर करें।

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस