Move to Jagran APP

Study: विटामिन डी की कमी वाले लोगों में आई फ्लू का खतरा ज्यादा, हालिया स्टडी में चौंकाने वाला खुलासा

देशभर में आई फ्लू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों से इसके मामले लगातार सामने आ रहे हैं। बरसात में मौसम में अक्सर लोगों में आई फ्लू के मामले देखने को मिलते हैं। इसकी वजह से अक्सर आंखों में रेडनेसजलन और खुजली होने लगती है। इसी बीच अब एक ताजा स्टडी में आई फ्लू को लेकर हैरान करने वाला खुलासा हुआ है।

By Harshita SaxenaEdited By: Harshita SaxenaFri, 11 Aug 2023 11:57 AM (IST)
Study: विटामिन डी की कमी वाले लोगों में आई फ्लू का खतरा ज्यादा, हालिया स्टडी में चौंकाने वाला खुलासा
इन लोगों का ज्यादा है आई फ्लू का खतरा

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Study: देशभर में इन दिनों आई फ्लू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। बरसात में मौसम आंखों में होने वाला यह संक्रमण लोगों के लिए परेशानी का सबब बन जाता है। यूं तो इस मौसम में हर साल आई फ्लू के मामले सामने आते हैं, लेकिन बीते कुछ वर्षों की तुलना में इस साल इसके ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। आई फ्लू को कंजंक्टिवाइटिस या फिर पिंक आई के नाम से भी जाना जाता है।

दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में इन समय कई लोग इस संक्रमण का शिकार हो रहे हैं। इसी बीच अब एक ताजा स्टडी सामने आई है। हाल ही में सामने आई इस स्टडी में यह पता चला है कि विटामिन डी की कमी और एलर्जी वाले लोगों में कंजंक्टिवाइटिस का गंभीर रूप होने की संभावना अधिक होती है। यह दावा आंसू पर की गई एक स्टडी के आधार पर किया गया है। आइए जानते हैं इस स्टडी से जुड़ी जरूरी बातें-

इन लोगों को आई फ्लू का ज्यादा खतरा

इस स्टडी में भाग लेने वाले आई फ्लू से पीड़ित लगभग 92% लोगों में विटामिन डी का स्तर कम था। इतना ही नहीं उनमें से कुछ में विटामिन डी का स्तर 5 से भी कम था। बता दें कि शरीर में सामान्य विटामिन डी का स्तर 30 के करीब है। स्टडी में शामिल विशेषज्ञों के मुताबिक आसूंओं पर आधारित इस अध्ययन से कंजंक्टिवाइटिस के इलाज के तरीके में बदलाव आ सकता है।

विटामिन डी और आई फ्लू में कनेक्शन

स्टडी में पता चला कि जब व्यक्ति में विटामिन डी का स्तर कम होता है, तो आंख की इम्युनिटी भी कमजोर हो जाती है, जिससे वायरस इसे आसानी से अपनी चपेट में ले लेता है। इस वायरस की वजह से आंखों में सूजन होने लगती है, जो गंभीर कंजंक्टिवाइटिस का कारण बन सकता है। इसके अलावा अध्ययन में भाग लेने वाले आई फ्लू से पीड़ित लगभग 57-60% लोगों में एलर्जी की प्रवृत्ति थी। कंजंक्टिवाइटिस ज्यादातर एडेनो वायरस के कारण होता है, जो छूने और तरल पदार्थों से फैल सकता है।

विटामिन डी कमी पूरा करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

  • विटामिन डी का स्तर बनाए रखने के लिए कैल्शियम का भरपूर सेवन करें।
  • सूरज की किरणें विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत हैं,इसलिए रोजाना 10 से 15 मिनट की धूप जरूर लें।
  • विटामिन डी 3 से भरपूर वसायुक्त मछली का मांस और फिश लिवर ऑयल डाइट में शामिल कर सकते है।
  • विटामिन डी की कमी दूर करने के लिए आप अंडे की जर्दी, पनीर और बीफ लीवर आदि खा सकते हैं।
  • कुछ मशरूम में भी विटामिन डी2 पाया जाता है।
  • इसके अलावा डेयरी उत्पाद और अनाज जैसे कई फूड आइटम्स भी विटामिन डी से भरे होते हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Picture Courtesy: Freepik