Move to Jagran APP

Dust Allergy Remedies: धूल-मिट्टी की वजह से हो जाते हैं एलर्जी का शिकार, तो इन आयुर्वेदिक उपायों से पाएं राहत

अक्सर सर्दियों में मौसम लोग धूल-मिट्टी की वजह से डस्ट एलर्जी का शिकार हो जाते हैं। ऐसे में इसकी वजह से होने वाली लगातार छींक और खांसी परेशानी का सबब बन जाती है। अगर आप भी उन लोगों में से हैं तो अक्सर डस्ट एलर्जी से परेशान रहते हैं तो आज हम आपको बताएंगे कुछ ऐसे आयुर्वेदिक उपायों के बारे में जो आपको इससे राहत दिलाने में मददगार है।

By Harshita SaxenaEdited By: Harshita SaxenaPublished: Fri, 03 Nov 2023 01:11 PM (IST)Updated: Fri, 03 Nov 2023 01:11 PM (IST)
डस्ट एलर्जी से राहत पाने के लिए अपनाएं ये उपाय

लाइफस्टाइल डेस्क, नई दिल्ली। Dust Allergy Remedies: नवंबर की शुरुआत के साथ ही मौसम में बदलाव भी होने लगा है। हल्की ठंड के साथ एक तरफ जहां सर्दियों ने दस्तक दे दी है, तो वहीं दूसरी तरफ प्रदूषण का स्तर भी लगातार बढ़ता जा रहा है। हर मौसम अपने साथ कई तरह की समस्याएं और एलर्जी लेकर आता है। खासकर सर्दियों में मौसम में अक्सर लोग धूल की वजह से होने वाली एलर्जी से परेशान रहते हैं,जो लगातार छींक और खांसी की वजह बन जाती है। ऐसे में आप कुछ आयुर्वेदिक उपायों की मदद से खुद को डस्ट एलर्जी से बचा सकते हैं।

हल्दी वाला दूध

हल्दी अपने औषधीय गुणों की वजह से कई समस्याओं का रामबाण इलाज मानी जाती है। खासतौर पर हल्दी वाला दूध कई समस्याओं का अचूक इलाज माना जाता है। अगर आप अक्सर डस्ट एलर्जी का शिकार होते रहते हैं, तो हल्दी वाला दूध जरूर पिएं। इसके लिए एक कप दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर गर्म करें और फिर इसमें शहद मिलाकर इसे सोने से पहले पी लें। यह न सिर्फ आपकी एलर्जी दूर करेगा, बल्कि आपकी इम्युनिटी भी मजबूत करेगा। हल्दी एक प्राकृतिक डिकॉन्गेस्टेंट के रूप में कार्य करती है और हिस्टामाइन के रिलीज को कम करती है, जो एलर्जी के लिए जिम्मेदार है।

यह भी पढ़ें- बढ़ते प्रदूषण में रखना चाहते हैं अपने फेफड़ों को हेल्दी, तो अपनाएं ये 5 टिप्स

पुदीने की चाय

डस्ट एलर्जी से राहत पाने के लिए आप पुदीने की चाय की पी सकते हैं। इसे बनाने के लिए एक कप गर्म पानी में एक चम्मच पुदीने की सूखी पत्तियां और शहद मिलाकर चाय बना लें। पुदीना के एंटी-इंफ्लेमेटरी और डिकॉन्गेस्टेंट गुणों के कारण, धूल से होने वाली एलर्जी के लक्षणों जैसे कंजेशन, छींक, खांसी और बहती नाक आदि से राहत मिलती है।

शहद

आयुर्वेद में शहद का अपना काफी महत्व है। अपने गुणों की वजह से यह कई समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करता है। डस्ट एलर्जी से राहत पाने के लिए आप शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं। रोजाना दो चम्मच शहद का सेवन एलर्जी वाले खतरनाक कारकों के खिलाफ एक ढाल की तरह काम करते हैं।

ग्रीन टी

ग्रीन टी यूं तो कई तरह से सेहत को फायदा पहुंचाती है, लेकिन आमतौर पर लोग इसे वजन घटाने के लिए इस्तेमाल करते है। हालांक, वेट लॉस के अलावा एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर ग्रीन टी एलर्जी के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकती है। खासकर धूल और गंदगी के कारण होने वाली एलर्जी से बचाव में यह काफी मददगार है।

गाय का घी

अगर आप अक्सर डस्ट एलर्जी से परेशान रहते हैं, तो गाय का घी इसमें आपकी काफी मदद करता है। रोज सुबह शुद्ध गाय के घी की दो बूंदें अपनी नाक में डालने से एलर्जी और धूल के कण के बचाव के लिए एक सुरक्षात्मक परत बन जाती है। यह धूल के कणों को खांसी, छींकने और नाक बहने जैसे लक्षणों को ट्रिगर करने से रोकता है।

यह भी पढ़ें- सांस लेना दूभर कर रही है जहरीली हवा, तो इन 5 एक्सरसाइज से बनाएं अपने फेफड़ों को मजबूत

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Picture Courtesy: Freepik


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.