दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Thyroid: आजकल थायराइड एक सामान्य समस्या है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं को अधिक होती है। इसके अलावा, थायराइड एक आनुवांशिकी रोग भी है, जो पीढ़ी दर पीढ़ी चलती रहती है। आसान शब्दों में कहें तो परिवार में किसी सदस्य के होने से अन्य लोगों को भी थायराइड की समस्या हो सकती है। थायराइड ग्रंथि गर्दन के अंदर तितली की आकार में होती है। इस ग्रंथि से हार्मोन कभी कम तो कभी ज्यादा निकलता है। इससे थायराइड की समस्या होती है। थायराइड को कंट्रोल करने के लिए रोजाना सही डाइट लें और एक्सरसाइज करें। वहीं, आयोडीन युक्त भोजन का सेवन करें। साथ ही तनाव से दूर रहें। इसके अलावा, रोजाना इन ड्रिंक्स का सेवन जरूर करें। आइए जानते हैं -

धनिया पानी का सेवन करें

अगर आप थायराइड के मरीज और थायराइड को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो रोजाना सुबह में धनिया पानी का सेवन करें। धनिया पानी के सेवन से थायराइड हार्मोन कंट्रोल में रहता है। आसान शब्दों में कहें तो थायराइड हार्मोन को कंट्रोल किया जा सकता है। इसके लिए रोजाना रात में सोने से पहले एक गिलास पानी में धनिया को भिगो कर रख दें। अगली सुबह को धनिया छानकर पानी पी जाएं। आप चाहे तो धनिया को चबाकर खा सकते हैं। इस उपाय को करने से न केवल थायराइड बल्कि बढ़ते वजन को भी कंट्रोल में किया जा सकता है।

नींबू पानी का सेवन करें

हेल्थ एक्सपर्ट्स हमेशा ही थायराइड के मरीजों को वजन कंट्रोल करने की सलाह देते हैं। इसके लिए आप नींबू पानी का सेवन कर सकते हैं। नींबू पानी के सेवन से फैट बर्न होता है। साथ ही शरीर में मौजूद टॉक्सिन भी बाहर निकल जाता है। इसके लिए रोजाना सुबह की शुरुआत नींबू पानी से करें। नींबू पानी में आप शहद का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस डिटॉक्स ड्रिंक को पीने से थायराइड कंट्रोल में रहता है।

अदरक पानी का सेवन करें

अदरक पानी सेहत के लिए फायदेमंद साबित होता है। इसके सेवन से बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों में बहुत जल्द आराम मिलता है। खाकर सर्दी खांसी जुकाम में अदरक का काढ़ा पीना चाहिए। इस काढ़ा के सेवन से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। वहीं, थायराइड के लिए भी अदरक पानी दवा समान है। इससे मेटाबॉलिज़्म बूस्ट होता है। साथ ही थायराइड कंट्रोल में रहता है। इसके अलावा, अदरक पानी पीने से बढ़ते वजन को भी आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Edited By: Pravin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट