नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। बढ़ता वजन ना सिर्फ पर्सनॉलिटी खराब करता है बल्कि सेहत भी बिगाड़ता है। मोटापा की वजह से शुगर और ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियां अपनी गिरफ्त में ले लेती हैं। बढ़ते वज़न को कंट्रोल करने के लिए हम जिम जाने से लेकर डाइट कंट्रोल करने तक सभी फंडे आज़माते रहते हैं, तब भी हमारा वजन कंट्रोल नहीं होता। वेट बढ़ने का सबसे ज्यादा असर पेट पर दिखता है। पेट पर चर्बी की लेयर बन जाती है जिसे कम करना काफी मुश्किल काम है। आप भी अपने पेट की चर्बी को कंट्रोल करना चाहते हैं तो सबसे पहले जंक फूड से तौबा करें और कुछ आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करें।

आयुर्वेदिक हर्ब्स आपको मोटापे के साथ-साथ पेट की चर्बी से भी निजात दिलाएंगी, साथ ही आपका मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट करेंगे। आइए जानते हैं कि कौन-कौन से हर्ब्स पेट की चर्बी को कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं।

दालचीनी से करें वज़न कंट्रोल:

कोरोनाकाल में दालचीनी का इस्तेमाल लोगों ने इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बेहद किया है। दालचीनी हमारे खाने का न सिर्फ स्वाद बढ़ाती है, बल्कि इसके कई औषधीय गुण भी है। दालचीनी पाचन को दुरूस्त करती है और वजन को कंट्रोल करती हैं। दालचीनी का इस्तेमाल आप चाय में भी कर सकते हैं, यह ब्लड शुगर भी कंट्रोल करेगी।

वज़न कंट्रोल करना चाहते हैं तो त्रिफला का सेवन करें:

त्रिफला तीन ड्राई हर्ब्स आंवला, हरितकी और बिभीतकी का मिश्रण है। त्रिफला शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। ये पेट को साफ करने के साथ ही पाचन को भी दुरुस्त करता है। ये मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और पेट की चर्बी को कम करने में मदद करता है।

गुड़हल से भी कर सकते हैं वजन कंट्रोल:

गुड़हल का फूल सेहत और स्किन दोनों का ख्याल रखता है। इसमें कई ऐसे गुण छिपे हैं, जो बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करते हैं। गुड़हल के फूलों के इस्तेमाल से आप कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं। अगर आप तेजी से वजन घटाना चाह रहे हैं, जो गुड़हल की चाय पिएं। इससे आपका मोटापा काफी तेजी से कम होगा।

मालाबार इमली एक महीने में करेगी वज़न कंट्रोल:

वजन कम करने के लिए पहला प्राकृतिक उपचार है मालाबार इमली। ये इमली आजकल वजन कम करने में बेहद कारगर साबित हो रही है। ये पेट पर वसा जमने की क्रिया को कम करती है। इसमें हाइड्रॉक्सीसिट्रिक एसिड पाया जाता है जो मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है और भूख को कम करता है। इसका एक महीने तक सेवन करने से वज़न कंट्रोल रहता है।

ग्रीन टी से वजन हो सकता है कम:

सेहत के लिए ग्रीन टी बहुत ही फायदेमंद होती है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं, जो बीमारियों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाते हैं। ग्रीन टी के सेवन से मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है। इसमें कैफीन की मात्रा बहुत ही कम होती है। यह शरीर के फैट को बर्न करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। अगर आप अपने वजन को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो ग्रीन टी का सेवन जरूर करें।  

Edited By: Shahina Soni Noor