नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Mooli In Winters: सर्दियां शुरू होते ही, सबका दिल मूली के पराठे, सलाद, आचार और क्या नहीं खाने का करने लगता है। मूली सर्दियों के मौसम में ही आती है और इस दौरान आपको इसे ज़रूर खाना चाहिए। न सिर्फ यह खाने में मज़ेदार होती है बल्कि इससे शरीर को कई तरह के फायदे भी मिलते हैं।

ठंड में लोग खासतौर पर मूली-गाजर खूब खाते हैं, अगर आप भी इसे पसंद करते हैं, तो सेहत से जुड़े इसके फायदे भी ज़रूर जान लें। मूली से बनी डिश खाने से सेहत को मिलते हैं ये फायदे।

1. पाचन को दुरुस्त रखती है

मूली डायटरी फाइबर से भरपूर होती है, जो पाचन संबंधी समस्याओं में मदद करती है। अगर आप रोज़ पर्याप्त मात्रा में मूली का सलाद खाते हैं, तो आपका मल त्याग सुचारू रूप से होगा। साथ ही आपको कब्ज़ से समस्या नहीं होगी। क्या आप जानते थे कि मूली आपके पेट को इतना स्वस्थ रख सकती है?

2. सर्दी-ज़ुकाम से लड़ती है

आम सर्दी-ज़ुकाम का कोई इलाज नहीं है, लेकिन सर्दी के मौसम के साथ ये समस्या आती ही है। ऐसे में मूली आपकी मदद कर सकती है। मूली में एंटी-कंजेस्टिव गुण होते हैं, जो बलग़म को गले से साफ करने का काम करते हैं।

3. इम्यूनिटी को बढ़ावा मिलता है

विटामिन ए, सी, ई, बी6, पोटेशियम और अन्य खनिजों से भरपूर मूली आपके पूरे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा दे सकती है। मूली एंटीऑक्सिडेंट और एंथोसायनिन से भी भरपूर होती है, जिसका मतलब है कि यह आपके दिल के लिए भी काफी अच्छी है। बेशक, लंबी अवधि में लाभ प्राप्त करने के लिए आपको नियमित रूप से इस सब्जी का सेवन करना होगा।

4. ब्लड प्रेशर को बनाए रखती है

पोटेशियम से भरपूर, मूली शरीर में सोडियम-पोटेशियम संतुलन बनाए रखकर रक्तचाप को नियंत्रण में रखने में मदद कर सकती है। इसके एंटी-हाइपरटेंसिव गुण के कारण सभी को सर्दियों में पर्याप्त मूली खानी चाहिए। अगर उच्च रक्तचाप की समस्या पर ध्यान न दिया जाए, तो यह और भी बदतर हो सकती है।

5. त्वचा के लिए लाभकारी

सभी विटामिन के अलावा मूली में फॉस्फोरस और ज़िंक भी होता है। यह रूखापन, मुंहासों और चकत्ते से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं। मूली में पानी की मात्रा भी अच्छी होती है, जो शरीर को हाइड्रेट रखने का काम करती है। रोज़ाना मूली खाएंगे, तो सर्दियों में पाएंगे दमकती हुई त्वचा।

Disclaimer:लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Edited By: Ruhee Parvez